जागरण संवाददाता, रेवाड़ी:

गांव गोलियाकी में भाड़ावास रोड पर खोले गए शराब ठेके को लेकर बृहस्पतिवार को ग्रामीणों ने एक बार फिर से हंगामा किया। इससे पहले भी मंगलवार को ग्रामीणों ने जिला सचिवालय पहुंचकर ठेके के विरोध में हंगामा किया था। ग्रामीणों ने जिला प्रशासन से ठेका बंद कराने की मांग की थी, जिसके पश्चात आबकारी विभाग ने ठेके को बंद कराते हुए ग्रामीणों से एक सप्ताह का समय मांगा गया था, लेकिन बृहस्पतिवार को गुपचुप तरीके से दोबारा ठेके को खोल दिया गया। ठेके के दोबारा खुलने की सूचना मिलने के पश्चात ग्रामीणों ने वहां पहुंचकर जमकर हंगामा किया। ग्रामीणों द्वारा विरोध करने के पश्चात संबंधित कर्मचारी ठेके को बंद करके चला गया।

ग्रामीणों ने कहा कि आबकारी विभाग की ओर से मंगलवार को ठेके को बंद कराते हुए एक सप्ताह का समय मांगा गया था, लेकिन इसके पश्चात भी बृहस्पतिवार को दोबारा से ठेके को खोल दिया गया। उन्होंने कहा कि ठेका संचालक अधिकारियों के आदेशों को नहीं मान रहे हैं। उन्होंने कहा कि गांव में पहले से ही एक ठेका मौजूद है। गांव में करीब 250 घर हैं। गत 14 अगस्त को गांव से भाड़ावास को जाने वाले मार्ग पर शराब ठेके की एक और ब्रांच खोल दी गई है। इसी मार्ग पर बाबा मोहनराम का मंदिर है, जोकि लाखों श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है। वहीं बड़ी संख्या में इस मार्ग से लोगों का आवागमन होता है। ठेके की ब्रांच खुलने के कारण यहां पर असामाजिक तत्वों का जमावड़ा रहता है। उन्होंने प्रशासन से इस ठेके को अन्यत्र शिफ्ट करने की मांग की।

Edited By: Jagran