जींद, जागरण संवाददाता। बिजली बिल सामान्य से कई गुणा अधिक आने से नाराज सिवाहा गांव के लोगों ने मंगलवार को तलोडा खेड़ी पावर हाउस के बाहर जाम लगाकर रोष जताया। इस दौरान पुलिस ने मौके पर पहुंच कर लोगों की बिजली निगम के अधिकारियों से बातचीत करवाई तो तय हुआ कि शुक्रवार को कर्मचारी गांव में जाकर लोगों की शिकायत सुनेंगे। इस दौरान करीब 20 मिनट तक जींद-पानीपत मार्ग बंद रहा।

अपनी शिकायत लेकर बिजली निगम कार्यालय पहुंचे सिवाहा गांव निवासी सतपाल, नरेंद्र, मुुकेश, जगदीश, साहिल, बलकार, धर्मसिंह सत्यवान, दिनेश, आशीष मोहित, निर्मला, पूनम, मुकेश, राजपाल व धर्मपाल ने बताया कि गांव में लाेगों के बिजली के बिल हमेशा ही 500 से एक हजार रुपये तक आते रहे हैं। वहीं इस बार एक सप्ताह पहले गांव में बिल बांटे गए तो लोगों की आंखें फटी की फटी रह गई। कोई भी बिल 10 हजार रुपये से कम का नहीं है।

सभी उपभोक्ताओं को 10 हजार रुपये से 30 हजार रुपये तक के बिल निगम द्वारा थमा दिए गए हैं। ग्रामीणों ने बताया कि वे बिजली निगम के अधिकारियों से बातचीत करने के लिए गए थे, लेकिन वहां उनकी बात सही प्रकार से नहीं सुनी गई। ऐसे में उन्होंने सड़क को जाम कर दिया।

इसके बाद जेई सुरेश कुमार से ग्रामीणों की बातचीत हुई तो तय हुआ कि शुक्रवार को निगम की टीम गांव में आकर लोगों की बात सुनेगी। पिल्लूखेड़ा थाना प्रभारी हरिओम ने बताया कि बिजली बिलों को लेकर ग्रामीणों ने तलोड़ा खेड़ी पावर हाउस के पास जाम लगाया था। अधिकारी शुक्रवार को गांव में जाकर बातचीत करेंगे। इस पर लोगों ने जाम खोल दिया।

एमसीओ के कारण हुई दिक्कत

पिल्लूखेड़ा बिजली निगम के एसडीओ रमेश कुमार के अनुसार गांव में बिजली के नए मीटर लगाए गए हैं। इसके मीटर चेंज आर्डर (एमसीओ ) अपडेट नहीं हुए हैं। इसके चलते परेशानी हुई है। यह कोई विशेष मुद्दा नहीं है। इसको ठीक कर दिया जाएगा। लोगों को समस्या नहीं होने दी जाएगी।

Edited By: Anurag Shukla