फर्जी चेचिस लगाकर दौड़ा रहे थे वाहन, एक को पकड़ा

संवाद सूत्र, तालग्राम: फर्जी आरसी तैयार करवा कर चलाए जा रहे वाहन पुलिस ने पकड़ लिए। पड़ताल में सात वाहनों के चेसिस व इंजन फर्जी निकले। एक आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार किया। आरोपित दो साथी भाग निकले। उनकी तलाश पुलिस कर रही है।

थाना तालग्राम के प्रभारी निरीक्षक जितेंद्र प्रताप सिंह को क्षेत्र में फर्जी आरसी के सहारे वाहनों के चलाए जाने की जानकारी मिली थी इसके बाद से वह वाहनों की तलाश करवा रहे थे शिव रामू बस स्टॉप चौराहे के पास फर्जी तरीके से तैयार कराए गए वाहनों के खड़े होने की जानकारी प्रभारी निरीक्षक को मिली प्रभारी निरीक्षक ने उप निरीक्षक आशीष कुमार सिंह व मुकेश राणा के साथ छापेमारी की सात वाहन पकड़े गए। इसमें तीन बसें, एक लोडर, एक कार व एक जीप शामिल है। इसके अलावा छह इंजन सहित कई वाहनों के उपकरण भी पुलिस के हाथ लगे हैं। पुलिस ने वाहनों की पड़ताल की। इनमें चेचिस किसी दूसरे नंबर की थी। इंजन किसी दूसरे नंबर का रखा गया था। अन्य उपकरण किसी अन्य वाहन के लगे हुए थे। ऐसे में तीन बस, एक कार, एक लोडर व एक थार जीप को थाने में खड़ा कराया गया। वही मोहल्ला मुगलाना निवासी मोहसिन खान को पुलिस ने पकड़ लिया। प्रभारी निरीक्षक जितेंद्र प्रताप सिंह ने वाहनों के फर्जीवाड़ा करने, धोखाधड़ी करने, जालसाजी व कूट रचित तरीके से कागजात तैयार करने के मामले में मुगलाना निवासी मोहसिन उर्फ जानू सहित टीला निवासी मोहन सिंह व जिला एटा निवासी सोहेल खान के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया। मोहसिन को जेल भेजा गया। प्रभारी निरीक्षक जितेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि इस मामले की जांच की जा रही है। कई परतें खुल कर सामने आएंगी। एट वर्ष पहले जिला इटावा में भी 50 वाहनों का फर्जीवाड़ा पकड़ा गया था। इनमें चेचिस किसी और की थी, इंजन किसी और नंबर का था। कागजात भी फर्जी मिले थे। जांच पूरी होने के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।

Edited By: Jagran