अंतरजनपदीय गिरोह के चार लुटेरे गिरफ्तार

संवाद सहयोगी, हाथरस : पिछले दिनों कोतवाली सादाबाद व थाना चंदपा क्षेत्र में दो सराफों से हुई लूट की घटनाओं का पुलिस ने शनिवार को पर्दाफाश किया। एसपी देवेश कुमार पांडेय ने बताया कि अंतरजनपदीय गिरोह के चार लुटेरों को दबोचकर उनसे पांच लाख के लूटे गए गहने, दो बाइक, चार तमंचे व कारतूस बरामद किए गए हैं। चारों को जेल भेजा गया। एसपी ने बताया कि कन्हैया वर्मा उर्फ लवांशु निवासी मोहल्ला किला गेट थाना सदर कोतवाली की गांव कंकोड़ी में सराफा की दुकान है। 31 मई को देर शाम वह दुकान बंद कर घर जा रहे थे, तभी गांव तेहरा के पास बाइक सवार बदमाशों ने तमंचा दिखाकर कन्हैया वर्मा से नकदी व गहने लूट भाग गए थे। इसके अलावा 15 जुलाई को खंदौली (आगरा) में दुकान करने वाले भूदेव सिंह निवासी बिसावर से सराफा की दुकान से घर जाते समय कोतवाली क्षेत्र के मई रोड के पास बाइक सवार बदमाशों ने तमंचा दिखाकर गहने व नकदी लूट लिए थे। दोनों घटनाओं में रिपोर्ट दर्ज किया गया था। एसओजी, सर्विलांस टीम व इलाका पुलिस को पर्दाफाश के लिए लगाया था। टीम ने धरातल के साक्ष्य, सर्विलांस सेल की टेक्निक व सीसीटीवी फुटेज आदि की मदद से सादाबाद पुलिस को शुक्रवार रात सफलता मिली। दो मोटर साइकिलों पर सवार चार संदिग्धों को नयाबाग (मई) जाने वाले तिराहे से पकड़ा गया। आरोपितों के नाम सोनू उर्फ नरेश कुमार निवासी नगला रामचंद्र बाग बढ़ार थाना सादाबाद, प्रदीप जाट निवासी मसूरी थाना इचौली (मेरठ), धर्मेश उर्फ धर्मेंद्र उर्फ छोटू निवासी नरहुली थाना जलेसर (एटा), अभिषेक निवासी जरीपुरा थाना सहपऊ बताए गए हैं। पुलिस के मुताबिक अभिषेक व धर्मेश के खिलाफ जिले कई थानों में मुकदमे दर्ज हैं। प्रदीप जाट व सोनू पर जिले के साथ अन्य जिलों में मुकदमे दर्ज हैं। ये माल किया बरामद सादाबाद पुलिस ने चारों बदमाशों के कब्जे से लूटे गए जेवरात में से सोने की छह अंगूठी, दो ओम, दस टाप्स, 22 कुंडल, 22 बालियां, 78 नाक की बाली, सोने के 17 लौंग व चांदी की 12 पायजेब बरामद की। इनकी कीमत पांच लाख रुपये के करीब बताई गई। चार तमंचे व दस कारतूस के अलावा दो मोटर साइकिलें भी बरामद की हैं। अपराध करने का तरीका : पुलिस की पूछताछ में बदमाशों ने बताया कि अभिषेक निवासी जरीपुरा, सहपऊ लूटपाट से पहले सराफा व्यापारियों की दुकानों पर जाकर उनके आने-जाने वाले रास्ते-समय को चिह्नित कर साथियों को बुलाकर लूट की घटना को अंजाम देता था। चंदपा व सादाबाद में सराफा व्यापारियों से लूटे गए गहनों को सोनू के मकान में छिपाया था, जहां गहनों का बंटवारा कर अगली लूट की घटना को अंजाम देने बिसावर से मथुरा जा रहे थे। 20 हजार रुपये मिलेगा इनाम : सादाबाद कोतवाली पुलिस टीम के प्रोत्साहन के लिए पुलिस अधीक्षक देवेश कुमार पांडेय ने 20 हजार रुपये का पुरस्कार देने की बात कही। टीम में सीओ सादाबाद ब्रह्म सिंह, कोतवाली प्रभारी आशीष कुमार, एसआइ श्यौदान सिंह, एसआइ यतेंद्र सिंह तेवतिया, कांस्टेबल पंकज कुमार, धर्मेन्द्र, अंकित कुमार, अवधेश कुमार व सौरभ शामिल रहे।

Edited By: Jagran