बगहा। मधुबनी प्रखंड में प्राथमिक स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों की सेहत से खिलवाड़ हो रहा है। बच्चों को दिए जाने वाले मिड-डे मील के नाम पर जहरीले कीड़े वाला खाना परोसा जा रहा है। ताजा मामला प्रखंड के गोबरहिया स्थित राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय में मंगलवार को एमडीएम में कीड़ा परोसने का है।

वर्ग तीन में पढ़ने वाली ममता साहनी, वर्ग छह की रूबी राय, गुलशन राय, वर्ग चार के शमशाद ने बताया कि शिक्षकों की देख रेख में कीड़ा वाला भोजन परोस दिया गया। सब्जी में सोयाबीन से कीड़ा निकलते देख कर हल्ला किया गया। जिसके बाद सभी बच्चे खाना फेंक दिए। खाने में कीड़े निकलने की सूचना स्वजन को हुई तो स्वजन ने बुधवार को स्कूल पहुंचकर जमकर हंगामा किया गया। उसके बाद आनन फानन में कीड़ा वाला सब्जी को नष्ट किया गया। बच्चों के हंगामा के बाद रसोइया ने दूसरा सब्जी बना कर एमडीएम खिलाया गया। बच्चों की सूचना पर पहुंचे अभिभावक पूर्व मुखिया शाह आलम अंसारी, वार्ड प्रतिनिधि मनोज गुप्ता, विध्याचल राम, विश्वनाथ राम, सतार अंसारी, सन्ने दुबे, बहादुर राय, प्रदीप यादव की प्रधान शिक्षक और खाना बनाने वाले रसोइया से नोक झोक हो गई। जिसके बाद अफरा-तफरी मच गई। ग्रामीणों ने चेतावनी देते हुए कहा कि इस तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। विद्यालय में जिस वेंडर के द्वारा राशन की आपूर्ति की जाती है। वेंडर भी शिक्षा विभाग के एक शिक्षक का रिश्तेदार है।

मधुबनी के बीडीओ राजेश भूषण ने कहा कि बच्चों को दिए जाने वाले पोषित और पौष्टिक आहार में कीड़े निकलना दुर्भाग्यपूर्ण है। इसकी जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी। किसी भी हाल में दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

Edited By: Jagran