Azadi Ka Amrit Mahotsav: लखनऊ, जेएनएन। उत्तर प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष सतीश महाना ने डेनमार्क की राजधानी कोपेन हेगेन में कहा कि देश को ऐसे सभी प्रवासी भारतीयों पर गर्व है जिनके कारण विश्व में भारत का नाम बेहद सम्मान से लिया जा रहा है। महाना ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा के अनुरूप भारत कुछ वर्षाें बाद दुनिया में विश्व गुरु कहलाएगा।

कोपेन हेगेन में भारतीय राजदूत पूजा कपूर की उपस्थिति में प्रवासी भारतीयों के साथ आजादी का अमृत महोत्सव के तहत आज स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने तिंरगा फहराया। इस मौके पर उन्होंने प्रवासी भारतीयों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद हमारा भारत लगातार उन्नति के रास्ते पर दिन दूनी रात चौगुनी आगे बढ़ रहा है। साथ ही प्रवासी भारतीयों का भी सम्मान बढ़ा है।

महाना ने उपस्थिति प्रवासी भारतीयों से अपेक्षा की कि आप लोग ऐसा काम करे जिससे अपने देश का नाम उंचा हो सके और दुनिया में हम सबकी बेहतरीन छवि बन सके। साथ ही विदेश में भारतीय संस्कृति का प्रचार प्रसार भी किए जाने की जरूरत है जिससे लोग भारत के गौरवपूर्ण इतिहास को जान सके।  

कनाडा के हेलीफैक्स में आयोजित कामनवेल्थ पार्लियामेंट्री कॉन्फ्रेंस में सम्मिलित होने गए उत्तर प्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष सतीश महाना ने कहा कि भारतीय दुनिया में कहीं भी जाए अपनी कर्म भूमि के लिए उस देश में पूरी ईमानदारी से कार्य करते हैं।

जब कभी किसी अन्य देश के नेता से मुलाकात होती है तो वह अपने देश में बसे भारतीय समुदाय की उपलब्धियों के बारे हमें गर्व से बताते हैं। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि भाषा कोई भी हो लेकिन हम सभी के संस्कार भारतीय ही हैं।  हम राष्ट्र निर्माण  मिलकर करते  है।

भारतीय समुदाय एक ऐसी शक्ति है जो हम सबको प्रति पल जीवंतता का एहसास कराती है। इस मौके पर विधान परिषद के सभापति कुंवर मानवेन्द्र सिंह सहित विधान सभा के प्रमुख सचिव प्रदीप दुबे व विधान परिषद के प्रमुख सचिव डॉ राजेश सिंह भी उपस्थित रहे।

कारागार मुख्यालय पर आजादी का अमृत महोत्सव

आजादी का अमृत महोत्सव कारागार मुख्यालय पर परंपरागत और गरिमा के साथ मनाया गया। सर्वप्रथम मुख्यालय प्रांगण में स्थापित शहीद स्मारक पर डीजी जेल आनंद कुमार तथा मुख्यालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा पुष्पांजलि अर्पित की गई। इस स्मारक पर जेल की सेवा करते हुए प्राणों की आहुति देने वाले शहीद जेल अधिकारियों कर्मचारियों का नाम अंकित है। इसके पश्चात डीजी जेल ने झंडारोहण किया गया।

स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्रीय ध्वज फहराते मुख्य सूचना आयुक्त भवेश सिंह।

Edited By: Umesh Tiwari