- मनरेगा से हाट बा़जार भी बनाये जायेंगे

झाँसी : मनरेगा (महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारण्टी अधिनियम) के अन्तर्गत ़िजले में बकरी पालने वालों के लिये मॉडल आश्रय स्थल बनाये जायेंगे। इसके अलावा हाट बा़जार भी तैयार किये जायेंगे, जो मॉडल बनेंगे। इसमें गरीब परिवारों को वरीयता दी जायेगी।

मनरेगा के अन्तर्गत ़िजले में बकरी पालने वालों के लिये आश्रय स्थल बनाये जायेंगे। बकरी पालने वालों के लिये बकरियाँ बाँधने के लिये ऐसी जगह नहीं होती, जहाँ पर वह सुरक्षित तरीके से बाँधी जा सकें। बकरी पालन करने वाले अधिकांश लोग गरीब होते हैं। इस कारण उनके पास ऐसी सुविधा नहीं होती। इसे संज्ञान में लेते हुये मनरेगा उपायुक्त रामऔतार ने बकरी बाँधने वाले स्थलों को मॉडल बनाने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि एक गाँव में एक बकरी पालने वाले के स्थल पर पक्का फर्श बनवायेंगे, जो खुरदरा होगा। बकरियों के मल-मूत्र को नाली के माध्यम से शौचालय में डाला जायेगा, ताकि गन्दगी इधर-उधर न फैले। इसके अलावा गुरसराय और बामौर ब्लॉक के एक-एक गाँव में मॉडल हाट बा़जार बनाये जायेंगे। इन बा़जारों में गरीब परिवारों को प्राथमिकता दी जायेगी।

फाइल : सुनील सुल्लेरे

समय : 6.50 बजे

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट