प्रयागराज, जेएनएन। इस एक घटना से कम से कम पुलिस अधिकारियों का दावा खोखला साबित हो जाता है कि पुलिस लगातार सड़क पर गश्त करती रहती है ताकि लोग सुरक्षित रहें, लूटपाट नहीं होने पाए। कौशांबी जनपद में सरायअकिल थाना के कोटिया गांव के समीप बाइक सवार दो सराफा कारोबारी हादसे में घायल हो गए। आसपास मौजूद लोगों ने घटना की सूचना इलाके की पुलिस को दी। आरोप है कि एक घंटे तक पुलिस नहीं पहुंची और दोनों कारोबारी 10 लाख रुपये के गहनों के थैले के साथ वहीं घायल पड़े रहे। परेशान होकर लोगों ने दूसरे थाने की पुलिस को खबर दी जिसके बाद घायलों को प्रयागराज के एसआरएन अस्पताल में भर्ती कराया गया। आभूषण भी घायलों के स्वजनों को सुरक्षित सौंपा गया।

प्रयागराज शहर में खरीदारी के बाद लौट रहे थे सराय अकिल

सराय अकिल कस्बा निवासी कुलदीप सोनी पुत्र विद्या सोनी और संतोष सोनी आभूषण व्यापारी हैं। बुधवार को वे दोनों एक बाइक पर सवार होकर प्रयागराज शहर के चौक बाजार में सोने-चांदी की खरीदारी करने के लिए गए थे। खरीदारी के बाद दोनों रात में घर लौट रहे थे। इस बीच रात करीब नौ बजे वे कौशांबी में सराय अकिल इलाके में कोटिया बिजली उप केंद्र के पास पहुंचे तभी किसी गाड़ी से टक्कर टालने के प्रयास में उनकी बाइक अनियंत्रित होकर सड़क किनारे खड़े एक पिकअप से जा भिड़ी। इस हादसे में कुलदीप और संतोष दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए।

आखिरकार पिपरी थाने की पुलिस ने आकर पहुंचाया अस्पताल

उनके पास बैग में करीब 10 लाख रुपये कीमत के गहने भी साथ पड़े थे। करीब स्थित चाय की दुकान पर मौजूद लोग वहां पहुंचे। कुछ और लोग भी जुटे। उन लोगों ने इस घटना की जानकारी स्थानीय पुलिस को दी। आरोप है कि सूचना मिलने के बाद भी पुलिस नहीं पहुंची। करीब एक घंटे तक घायल दोनों कारोबारी सड़क पर तड़पते रहे। इसके बाद लोगों ने पिपरी पुलिस को इस बारे में बताया। इसके बाद पिपरी थाने के दो सिपाहियों ने आकर दोनों घायल सराफा कारोबारियों को स्थानीय आदित्य अस्पताल पहुंचाया जहां उनकी स्थिति गंभीर देखकर डाक्टरों ने प्रयागराज में एसआरएन अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। इस बारे में लोगों से फोन पर जानकारी मिली तो बदहवासी की हालत में पहुंचे परिवार के लोगों को पुलिस ने जेवरात का थैला सौंप दिया। परिवार के लोगों ने सुबह बताया कि अभी दोनों घायलों की हालत चिंताजनक बनी है।

Edited By: Ankur Tripathi