दौड़ प्रतियोगिता में गुंजा कुमारी ने मारी बाजी

गया। श्री महावीर सोशल फाउंडेशन की ओर से सिक्स लेन पुल मानपुर पर तिरंगा दौड़ प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है। इसमें 80 लड़के और 20 लड़कियों ने हिस्सा लिया। दौड़ का आयोजन श्री महावीर फाउंडेशन के डायरेक्टर अशोक कुमार और संतोष कुमार की ओर से किया गया। लड़कियों में प्रथम स्थान पर रहीं गुंजा कुमारी को तीन हजार रुपये और ट्राफी दिया गया। द्वितीय स्थान पर शबनम कुमारी को दो हजार रुपये और ट्राफी मिला, जबकि तृतीय स्थान पर रहीं पूनम कुमारी को एक हजार रुपये और ट्राफी देकर सम्मानित किया गया। पुरुष वर्ग में विकास कुमार सिंह प्रथम, अभिषेक कुमार सिंह द्वितीय और विवेक कुमार तृतीय स्थानपर रहे। इन्हें भी नकद पुरस्कार और ट्राफी दिया गया। डा. बीडी शर्मा, डा. सतीश कुमार आदि मौजूद थे।

डाकघरों में दस दिनों में 22 हजार तिरंगा बिके

गया। डाक विभाग ने जिले में स्थित डाकघरों के जरिए दस दिनों में 22 हजार राष्ट्रीय ध्वज की बिक्री की गई। डाक विभाग 25 रुपये की दर से राष्ट्रीय ध्वज बेचा है। तिरंगा के बेचने के लिए डाकघरों में एक काउंटर खाला गया था। जहां 20 गुणा 30 इंच का तिरंगा का बिक्री की जा रही थी। वरीय डाक अधीक्षक रासबिहारी ने कहा कि एक अगस्त से लेकर नौ अगस्त तक 22 हजार राष्ट्रीय ध्वज का बिक्री हुई। बिक्री को लेकर तिरंगा गुजरात से आया था। तिरंगा पूरी तरह से खादी का कपड़ा का बना हुआ था। आजादी का अमृत महोत्सव को लेकर डाकघरों में तिरंगा बेचा गया। जिससे हर घर में तिरंगा फहरा सके। उन्होंने कहा कि सबसे अधिक तिरंगा का बिक्री प्रधान डाकघर में 11200 हुआ है। जबकि बोधगया में 900, बुनियादगंज दो सौ, सिविल लाइन, मगध विश्वविद्यालय, बेलागंज, चेरकी, गुरारू, खिजरसराय, मऊ, परैया, टिकारी, आमस, आंती, बांकेबाजार, डोभी, डुमरिया, गुरुआ, कोंच एवं रानीगंज डाकघरों में 50-50 तिरंगा का बिक्री हुई है। वहीं फतेहपुर डाकघर में 2050, चाकंद में तीन सौ, अतरी में सात सौ एवं गया आरएएस 250 तिरंगा का बिक्री हुई। जबकि जहानाबाद डाकघर में 15 सौ राष्ट्रीय ध्वज का बिक्री हुई है।

Edited By: Jagran