जागरण संवाददाता, करनाल : राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों में नए सत्र के दाखिले के लिए 16 अगस्त तक आवेदन प्रक्रिया जारी है। 12वीं कक्षा पास करने के बाद महाविद्यालयों में दाखिलों के साथ ही कई विद्यार्थी तकनीकी शिक्षा में भी रुझान रखते हैं। जिले की सात राजकीय आइटीआइ में लगभग 4800 सीटों पर दाखिले होने हैं। कौशल एवं औद्योगिक पाठ़्यक्रमों के तहत एक और दो वर्ष की अवधि वाले कोर्स में युवा आवेदन कर रहे हैं। जिले में पिछले वर्ष घरौंडा के बाद इस बार नीलोखेड़ी के जाम्बा में स्थापित आइटीआइ में भी दाखिलों की शुरुआत की गई है। कौशल विकास एवं औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग ने आवेदन जमा कराने के लिए 16 अगस्त तक आनलाइन आवेदन प्रक्रिया निर्धारित की है।

----बाक्स----

आवेदन के लिए इन दस्तावेजों की जरूरत

आवेदन करने वाले विद्यार्थियों के लिए आधार कार्ड, ईमेल आइडी, फेमिली आइडी, मोबाइल फोन नंबर अनिवार्य है। बाबू मूलचंद जैन राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के प्राचार्य धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि आईटीआई में दाखिले लेने वाले विद्यार्थियों के लिए विभाग की ओर से विशेष नियम है कि आधार कार्ड, ईमेल आईडी, फैमिली आईडी, मोबाइल नंबर अनिवार्य रूप से हो। आनलाइन दाखिलों के लिए संस्थान में हेल्प डेस्क स्थापित की गई हैं। आनलाइन आवेदन के साथ-साथ फीस जमा करवाने के लिए विभाग के कर्मचारी सहयोग करते हैं। आनलाइन आवेदन के बाद मेरिट के आधार पर सूची जारी की जाएगी।

----बाक्स----

प्रशिक्षण लेने वाले विद्यार्थियों को मिलेगा पासपोर्ट

आइटीआइ में पढ़ने के साथ ही विद्यार्थियों का पासपोर्ट भी बनाया जाता है और पासपोर्ट बनवाने में खर्च होने वाली राशि विभाग की ओर से दी जाती है। कौशल एवं विकास औद्योगिक प्रशिक्षण विभाग की ओर से आइटीआइ में प्रशिक्षण लेने वाले विद्यार्थियों को पासपोर्ट की सुविधा के बारे में अवगत करवाने के आदेश दिए गए हैं। पासपोर्ट में खर्च होने वाली राशि विभाग की ओर से स्टूडेंट को वापस दी जाएगी। प्राचार्य धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि आवेदन करने वाले विद्यार्थी के दस्तावेजों की संस्थान के सदस्यों की ओर से जांच की जाएगी। औपचारिकताएं पूरी करने वाला विद्यार्थी ही पासपोर्ट बनवाने के लिए आवेदन कर सकता है।

Edited By: Jagran