जागरण संवाददाता, जालंधर

वार्ड नंबर 50 के तहत आते कादेशाह चौक इलाके में आवारा कुत्ते लोगों को शिकार बना रहे हैं। इलाके में आवारा कुत्तों की संख्या बहुत बढ़ गई है और डाग लवर के कारण इन्हें हटाना भी मुश्किल हो रहा है। दो बच्चों को कुत्तों के काटने की वजह से लोग भड़क गए हैं। लोगों ने नगर निगम पर भी गुस्सा निकाला। इस दौरान वार्ड के पार्षद परमजोत सिंह शैरी चड्ढा ने निगम कमिश्नर को चेतावनी दी और कहा कि अगर समस्या का समाधान न हुआ तो दफ्तर का घेराव करेंगे।

लोगों ने कहा कि नगर निगम कई साल बीतने के बाद भी आवारा कुत्तों का कोई इंतजाम नहीं कर पाया है। बच्चे तो अकेले घर से बाहर ही नहीं निकल सकते। इलाके के लोगों ने नगर निगम के खिलाफ नारेबाजी की। पार्षद परमजोत सिंह शैरी चड्ढा भी मौके पर पहुंचे और लोगों की समस्या सुनीं। उन्होंने कहा कि वे लोगों के साथ खड़े हैं। पार्षद ने कहा कि लोग आवारा कुत्तों के हमले से घायल हो रहे हैं। छोटे-छोटे बच्चों को कुत्ते नोच रहे हैं, लेकिन नगर निगम पर इसका कोई असर नहीं हो रहा है। यहां पर तो कई लोग ऐसे हैं जो आर्थिक रूप से बेहद कमजोर हैं और उनके लिए इंजेक्शन लगवाना भी मुश्किल हो रहा है। शैरी चड्ढा ने कहा कि वह नगर निगम को चेतावनी देते हैं कि आवारा कुत्तों का अलग से कोई इंतजाम किया जाए। जैसे गायों को रखने के लिए गोशाला बनाई गई हैं, इसी तरह आवारा कुत्तों के लिए भी कोई जगह तय की जाए। अगर नगर निगम इस पर कार्रवाई नहीं करता है तो वह नगर निगम कमिश्नर का दफ्तर घेरेंगे। उन्होंने मेयर जगदीश राजा के कामकाज पर भी अंगुली उठाई और कहा कि मेयर ने कोई काम नहीं किया।

Edited By: Jagran