पटना, आनलाइन डेस्क। बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद सबकी नजर नई इस बात पर थी कि नई सरकार में किन्हें मंत्री बनया जाएगा। 16 अगस्त को नीतीश कैबिनेट के मंत्रियों ने शपथ ली। राज्यपाल फागू चौहान ने राजद के 16, जेडीयू के 11, कांग्रेस के दो, हम के एक और एक निर्दलीय विधायक को मंत्री पद की शपथ दिलाई। लालू यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव ने भी मंत्री पद की शपथ ली। उन्हें पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग का जिम्मा दिया गया है। शपथ लेने के बाद तेज प्रताप एक्शन में दिखे।

अधिकारियों के साथ की बैठक

मंत्री पद की शपथ लेने के बाद तेज प्रताप यादव राजभवन से सीधे निकल गए। उन्होंने मीडिया कर्मियों से बात नहीं। लेकिन वो मिनिस्टर बनते ही एक्शन में दिखे। तेज प्रताप ने पर्यावरण, वन एंव जलवायु परिवर्तन विभाग का पदभार संभालते ही अधिकारियों के साथ बैठक की। मीडिया कर्मियों ने जब पद संभालने के बाद उनसे बात करने की कोशिश की तो उन्होंने कहा कि मीटिंग के बाद बात करूंगा।

एक्शन में दिखे तेजस्वी यादव

डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के पास इस बार स्वास्थ्य विभाग, पथ निर्माण, नगर विकास एवं आवास, और ग्रामीण कार्य विभाग की जिम्मेदारी संभालेंगे। तेजस्वी यादव ने आज स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव और अन्य अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक के बाद उन्होंने कहा कि बिहार में स्वास्थ्य को लेकर तेजी से काम किया जाएगा।

31 मंत्रियों ने ली शपथ

महागठबंधन की सरकार में मंगलवार को 31 मंत्रियों ने शपथ ली। राजद कोटे से तेज प्रताप यादव, आलोक मेहता, ललित यादव, अनिता देवी, सुरेंद्र यादव, ललित यादव, चंद्रशेखर, रामानंद यादव, सुधाकर सिंह, सर्वजीत कुमार, सुरेंद्र राम, जितेंद्र कुमार राय, शाहनवाज, समीर महासेठ, शमीम अहमद और इसराइल मंसूरी मंत्री बनाया गया है। वहीं जदयू की तरफ से विजय कुमार चौधरी, बिजेंद्र प्रसाद यादव, अशोक चौधरी, शीला मंडल, श्रवण कुमार, संजय कुमार झा, लेशी सिंह, जमां खान, जयंत राज, मदन सहनी, सुनील कुमार को मिनिस्टर बनाया गया है। वहीं कांग्रेस कोटे से अफाक आलम,मुरारी गौतम को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है। इसके साथ ही हम से संतोष। मांझी और निर्दलीय विधायक सुमित सिंह को भी मंत्री बनाया गया है।

Edited By: Rahul Kumar