धनघटा में हुए विकास कार्यों की जांच के लिए टीम गठित

जासं, संतकबीर नगर: डीएम दिव्या मित्तल ने हैंसर बाजार ब्लाक के ग्राम पंचायत धनघटा में तीन वित्त वर्ष में कराए गए विभिन्न विकास कार्यों की जांच के लिए दो सदस्यीय टीम गठित कर दी है। इन्हें जांच कर जल्द रिपोर्ट देने के लिए कहा गया है। गांव के एक व्यक्ति की शिकायत पर डीएम ने यह कदम उठाया है। डीएम के इस कदम से ग्राम पंचायत के प्रधान, पंचायत सचिव आदि लोगों में खलबली मच गयी है।

हैंसर बाजार ब्लाक के धनघटा गांव के निवासी अखिलेश कुमार पाठक पुत्र सुभाष चंद्र ने शपथ पत्र के साथ डीएम से यह शिकायत की है कि उनके यहां के प्रधान ने वित्त वर्ष 2019-20, 2020-21 व 2021-22 में ग्राम पंचायत में कराए गए विकास कार्यों में अनियमितता की है। डीएम ने इस अवधि में कराए गए कार्यों की जांच के लिए दो सदस्यीय टीम गठित कर दी है। इसमें मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. संजय यादव व लोक निर्माण विभाग प्रांतीय खंड के सहायक अभियंता मनोज कुमार शामिल हैं। इन्हें जांच कर रिपोर्ट डीएम व डीपीआरओ कार्यालय को देने के लिए कहा है। डीएम ने कहा कि शासकीय कार्यों में वित्तीय अनियमितता कदापि बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जांच रिपोर्ट में इसकी पुष्टि होने पर दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Jagran