मेरठ, जागरण संवाददाता। स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 का परिणाम शनिवार शाम जारी हुआ। एक फिर मेरठ नगर निगम को राष्ट्रीय स्तर पर फास्टेस्ट मूवर बिग सिटी अवार्ड से सम्मानित किया गया है। प्रदेश के 10 लाख से अधिक आबादी वाले सात शहरों में मेरठ नगर निगम दूसरे स्थान पर है। देशभर की रैंकिंग में 10 लाख से अधिक आबादी वाले 45 शहरों की सूची में मेरठ की 15 वीं रैंक आई है। वहीं सहारनपुर नगर निगम को देश में 40वीं व प्रदेश में तीसरी रैंक मिली है। 

बीते वर्ष थी 27 वीं रैंक 

बीते वर्ष दस लाख से अधिक आबादी वाले देश के शहरों की इसी श्रेणी में 47 शहरों में मेरठ 27 वें स्थान पर था। इस बार रैंकिंग सूची में मेरठ ने 12 स्थान की छलांग लगाई है। वहीं प्रदेश के 10 लाख से अधिक आबादी वाले सात शहरों में मेरठ नगर निगम को दूसरा स्थान हासिल हुआ है। बीते वर्ष मेरठ प्रदेश में छठवें स्थान पर था। इस बार प्रदेश में पहला स्थान गाजियाबाद को मिला है, जबकि प्रयागराज, लखनऊ, वाराणसी, आगरा और कानपुर मेरठ से पीछे हो गए हैं। 

जीएफसी वन स्टार प्रमाणपत्र मिला 

मेरठ नगर निगम को जीएफसी (गार्बेज फ्री सिटी) वन स्टार और ओडीएफ (खुले में शौच मुक्त) प्लस प्लस प्रमाणपत्र भी हासिल हुआ। मेरठ नगर निगम से महापौर सुनीता वर्मा और नगर आयुक्त डा. अमित पाल शर्मा ने फास्टेस्ट मूवर बिग सिटी का पुरस्कार प्राप्त किया। यह पुरस्कार उन्हें आवास एवं शहरी विकास राज्यमंत्री कौशल किशोर और आवास और शहरी विकास की संयुक्त सचिव रूपा मिश्रा ने दिया। नई दिल्ली में आयोजित समारोह में राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मु ने पुरस्कारों की घोषणा की। स्वच्छ सर्वेक्षण में छठवीं बार इंदौर स्वच्छता का सरताज बना। 

- - - - 

सहारनपुर की रैंकिंग सुधरी, प्रदेश में तीसरा स्थान

सहारनपुर, जागरण संवाददाता। वर्ष 2021 के स्वच्छ सर्वेक्षण में पिछड़ने के बाद सहारनपुर नगर निगम ने स्वच्छ सर्वेक्षण-2022 में लंबी छलांग मारते हुए जहां देश में 40 वां स्थान पाया है, वहीं प्रदेश में स्वच्छता के मामले में तीसरा स्थान हासिल किया है। वर्ष 2020 के स्वच्छ सर्वेक्षण में सहारनपुर 49 वें स्थान पर था जोकि वर्ष 2021 के सर्वेक्षण में लुढ़कर 64 वें स्थान पर पहुंच गया था। उसके बाद से ही स्वच्छता में रैंकिंग हासिल करने के प्रयास तेज हो गए थे तथा सफाई व्यवस्था पर विशेष ध्यान दिया जाने लगा था। जिसके कारण सहारनपुर वर्ष 2022 में स्वच्छता के मामले में प्रदेश में तीसरे स्थान पर रहा है। 

यह भी पढ़ें : Swachh Survekshan 2022: बस, कागजों में ही स्वच्छता... मेरठ में हकीकत बड़ी गंदी है, पढ़ें यह खास रिपोर्ट

Edited By: Parveen Vashishta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट