जागरण संवाददाता, करनाल: अतिरिक्त उपायुक्त डा. वैशाली शर्मा ने बताया कि सरकार की ओर से प्रधानमंत्री किसान ऊर्जा सुरक्षा एवं उत्थान महाभियान स्कीम के तहत सोलर वाटर पंपिग सिस्टम के आनलाइन आवेदन 23 अगस्त को शुरू किये जाएंगे। जो किसान खेतों में तीन, पांच, साढ़े सात व 10 एचपी तक के सोलर वाटर पंपिग स्थापित करवाना चाहते हैं, वे नजदीकी अटल सेवा केंद्र और अपने मोबाइल से आनलाइन आवेदन कर सकते हैं। एडीसी ने बताया कि किसानों को सिस्टम के लिए आनलाइन आवेदन करते समय पंप की 25 फीसदी लागत यूजर शेयर के रूप में जमा करनी होगी। आनलाइन आवेदन के लिए जमीन की फर्द, आधार कार्ड, फैमिली आइडी व पहचान पत्र जरूरी हैं। पंप सिस्टम का वितरण पहले आओ पहले पाओ के आधार पर किया जाएगा। लाभार्थी को देय राशि आनलाइन, चालान या आरटीजीएस के माध्मय से वर्चुअल बैंक अकाउंट से जमा होगी। इसके बाद सरल पोर्टल पर दोबारा जाकर भुगतान मान्य करने के बाद ही किसान का आवेदन पूरा होगा, अन्यथा किसान का आवेदन रद्द समझा जाएगा। किसान द्वारा लाभार्थी हिस्से की राशि की एक प्रति कार्यालय में स्वयं जमा करवाना सुनिश्चित करेंगे। किसान अधिक जानकारी के लिए अतिरिक्त उपायुक्त कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं।

-----------------------

पूरे प्रदेश में केवल 20 हजार पंप

प्रदेश के किसानों को केवल 20 हजार सोलर ऊर्जा पंप पर ही अनुदान मिलेगा। 20 हजार आवेदन प्राप्त होने के बाद साइट खुद ही ब्लाक हो जाएगी। इसके बाद किसी भी जिले का किसान अनुदान पर सोलर ऊर्जा पंप के लिए आवेदन नहीं कर सकेंगे। क्षमता अनुसार किसान को इतने रुपए कराने होंगे जमा - तीन एचपी डीसी सरफेस मोनोब्लाक के लिए 45,075 रुपए - तीन एचपी डीसी सबमर्सिबल के लिए 46,658 रुपए - तीन एचपी एसी सबमर्सिबल के लिए 45,378 रुपए - पांच एचपी डीसी सरफेस मोनोब्लाक के लिए 64,581 रुपए - पांच एचपी डीसी सबमर्सिबल के लिए 64,724 रुपए - पांच एचपी एसी सबमर्सिबल के लिए 64,581 रुपए - साढ़े सात एचपी डीसी सरफेस मोनोब्लाक के लिए 91,894 रुपए - साढ़े सात एचपी डीसी सबमर्सिबल के लिए 92,007 रुपए - साढ़े सात एचपी एसी सबमर्सिबल के लिए 92,462 रुपए - दस एचपी डीसी सरफेस मोनोब्लाक के लिए 1,15,507 रुपए - दस एचपी डीसी सबमर्सिबल के लिए 1,13,515 रुपए - दस एचपी एसी सबमर्सिबल के लिए 1,13,515 रुपए।

Edited By: Jagran