बरेली, जेएनएन : बारादरी पुलिस ने रविवार को मृतक योगेश गुप्ता के पिता उमेश गुप्ता की लाइसेंसी रिवाल्वर जांच के लिए जब्त कर ली। पुलिस रिवाल्वर की गोली और पोस्टमार्टम रिपोर्ट में निकली गोली की जांच कराएगी। मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस इस जांच के बाद आगे की कार्रवाई करेगी।

15 नवंबर को एबीवीपी कार्यकर्ता कमल गुप्ता के भाई योगेश गुप्ता को गोली मार दी गई थी। जिसके बाद एक निजी अस्पताल इलाज के दौरान 18 नवंबर को योगेश की मौत हो गई थी। मौत के बाद योगेश के स्वजनों, भाजपा और एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने संजयनगर श्मशान घाट पर हंगामा काटा था। मांग थी कि कांकरटोला चौकी इंचार्ज को सस्पेंड किया जाए और इंस्पेक्टर बारादरी को लाइन हाजिर किया जाए। इस पर एसपी सिटी रविद्र कुमार ने कार्रवाई का आश्वासन दिया था, जिसके बाद शव का अंतिम संस्कार कराया गया था। एसएसपी रोहित सिंह सजवाण ने चौकी इंचार्ज अजय यादव को लाइन हाजिर कर दिया था। इस मामले में आरोपित अजय गुप्ता उर्फ शैंकी को गिरफ्तार किया जा चुका है जबकि दूसरे आरोपित मुकेश गुप्ता की भूमिका न पाए जाने पर पुलिस ने उसे मुक्त कर दिया था। शिक्षक हत्याकांड: फीरोजाबाद में इज्जतनगर पुलिस डॉक्टर के दर्ज करेगी बयान

बरेली : 12 अक्टूबर को कर्मचारीनगर में हुए शिक्षक अवधेश कुमार सिंह हत्याकांड में इज्जतनगर पुलिस सोमवार को फीरोजाबाद पहुंचेगी। वहां अवधेश के शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर के बयान दर्ज होंगे। जहां अवधेश का शव दफनाया गया था, फीरोबाबाद पुलिस के साथ इज्जतनगर पुलिस उस स्थान पर भी जाएगी।

हत्याकांड के पांच आरोपित अवधेश का ससुर अनिल, साला प्रदीप, साली ज्योति, विनीता का प्रेमी अमित सिसौदिया उर्फ अंकित एवं भोला फरार है। गैर जमानती वारंट के बाद इन सभी के कुर्की की कार्रवाई की संस्तुति की जा चुकी है। लिहाजा, पुलिस आरोपितों के घर पहुंचेगी और अपनी मौजूदगी में नोटिस चस्पा कर मुनादी कराएगी। आरोपितों की पकड़ के लिए दबिश भी देगी।

केस के विवेचक व इंस्पेक्टर इज्जतनगर केके वर्मा ने बताया कि मामले में आगे की कार्रवाई के लिए टीम सोमवार को फीरोजाबाद पहुंचेगी। यहां फीरोजाबाद पुलिस के साथ मिलकर आरोपितों की धरपकड़ तेज की जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस