सिद्धार्थनगर : विकास खंड भनवापुर अंतर्गत मोहम्मदपुर-बिजौरा मार्ग की स्थिति बदतर है। मरम्मत के अभाव में जर्जर हो चुके मार्ग पर सफर करना कष्टदायक है। जबकि जल निकासी की सुविधा न होने से घरों का पानी सड़क पर बहता है। विभाग के जिम्मेदार समेत क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि भी मूक दर्शक बने हैं।

पीडब्लूडी के इस मार्ग पर जल निकासी की समस्या राहगीरों के लिए मुश्किलें पैदा कर रही हैं। सड़क पर गंदा पानी एकत्रित रहता है, जिससे सभी को परेशानी होती है। आवागमन की ²ष्टि से मार्ग महत्वपूर्ण है, जो एक दर्जन गांवों को जोड़ता है। इस सड़क पर पिछले पांच साल से कोई मरम्मत कार्य नहीं हुआ, जिसके कारण यह पूरी टूट चुकी है। राहगीर छोटी-छोटी दुर्घटना का शिकार हो रहे हैं, कब कोई बड़ा हादसा हो जाए, कुछ कहा नहीं जा सकता है।

जमील अहमद का कहना है कि मरम्मत के अभाव में सड़क जर्जर हो गई है। मोहम्मदपुर गांव के पास नाली न होने की वजह से घरों का गंदा पानी सड़क पर भरा रहता है। राहगीर चुटहिल होते हैं तो किनारे रास्ता गुजरने वाले कभी-कभी कीचड़ से सराबोर हो जाते हैं। राजेंद्र ने कहा कि मार्ग न केवल दर्जन भर गांवों को जोड़ता है, बल्कि तहसील व ब्लाक मुख्यालय को भी सड़क जोड़ती है, फिर भी कोई पुरसाहाल नहीं है। गंदगी ऐसी, कि दुर्गंध से लोगों को सुकून छिना रहता है। राम कुमार गुप्ता, प्रेम कुमार, असलम, अहमद रजा, गुलाम नबी ने सड़क की मरम्मत व जल निकासी की समस्या दूर कराने की मांग की है।

जेई पीडब्लूडी व्यास मुनि ने कहा कि वस्तु स्थिति का पता कराते हैं, फिर समाधान की दिशा में जो जरूरी कदम होंगे, उठाए जाएंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस