लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। उत्तर प्रदेश देश में सबसे ज्यादा एयरपोर्ट वाला प्रदेश बनने जा रहा है। लखनऊ और वाराणसी के बाद कुशीनगर तीसरा अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट हो गया है। कुशीनगर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट को अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के संचालन के लिए नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) का लाइसेंस मिल गया है।अयोध्या व जेवर भी अंतरराष्ट्रीय स्तर के एयरपोर्ट बनाए जा रहे हैं। वर्तमान में 10 एयरपोर्ट का निर्माण कार्य चल रहा है। 

पिछले दिनों नीति आयोग की बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में एयरपोर्ट को लेकर चल रहे कार्यों का ब्योरा पेश किया। मौजूदा समय में उत्तर प्रदेश में लखनऊ, वाराणसी, आगरा, गोरखपुर, कानपुर, प्रयागराज और हिंडन एयरपोर्ट से हवाई सेवाएं संचालित हो रही हैं। बरेली हवाई अड्डे से भी आठ मार्च से हवाई सेवाओं की शुरुआत कर दी जाएगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया कि प्रदेश के 10 अन्य शहरों में एयरपोर्ट के विकास का काम तेजी से चल रहा है। इनमें रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम के तहत आजमगढ़, अलीगढ़, मुरादाबाद, श्रावस्ती, चित्रकूट तथा सोनभद्र में एयरपोर्ट बनाए जा रहे हैं। साथ ही हवाई अड्डों को बेहतर कनेक्टिविटी और जन सुविधा के लिहाज से प्रदेश में 17 एयरपोर्ट टर्मिनल को कम से कम दो लेन मार्ग से जोड़ा जा रहा है।

कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को मिला लाइसेंस : भगवान बुद्ध की महापरिनिर्वाण स्थली कुशीनगर के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के संचालन के लिए भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआइ) को लाइसेंस मिल गया है। यह देश का 87वां एयरपोर्ट है, जिसे लाइसेंस मिला है। अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे की श्रेणी में यूपी का तीसरा व देश का 29वां एयरपोर्ट है। डायरेक्टर जनरल आफ सिविल एविएशन (डीजीसीए) अरुण कुमार ने मंगलवार को दिल्ली में एयरपोर्ट के डायरेक्टर एके द्विवेदी को लाइसेंस सौंपा। अब कुशीनगर एयरपोर्ट से घरेलू और अंतरराष्ट्रीय उड़ान शुरू हो सकती हैं। हालांकि, श्रीलंका की फ्लाइट लैंड कराकर उद्घाटन कराने की सरकार की मंशा में कुछ वक्त लग सकता है।

घरेलू व अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवा मिलेगी : उत्तर प्रदेश के सबसे लंबे 3200 मीटर रनवे वाले कुशीनगर एयरपोर्ट के निर्माण कार्य की जांच के लिए अक्टूबर में डीजीसीए की टीम आई थी। उसने 21 बिंदुओं पर सवाल उठाए थे। एएआइ ने इन कमियों को दूर कर लाइसेंस के लिए आवेदन किया था। लाइसेंस मिलने के बाद एएआइ ने स्पाइस जेट, इंडिगो, गो एयर, एयर इंडिया, थाई एयरवेज, मिहिन लंका समेत एक दर्जन से अधिक भारतीय व विदेशी विमानन कंपनियों को उड़ान शुरू करने के लिए आमंत्रित किया है। कुशीनगर एयरपोर्ट के निदेशक एके द्विवेदी ने बताया कि यहां से घरेलू व अंतरराष्ट्रीय, दोनों उड़ान सेवा मिलेगी। विमानन कंपनियों से बातचीत चल रही है। एयरपोर्ट के उद्घाटन की तिथि केंद्र व प्रदेश सरकार तय करेगी। हम उड़ान के लिए तैयार हैं।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप