देवरिया: परिषदीय विद्यालयों में शिक्षक भर्ती में हुए फर्जीवाड़े की जांच कर रही एसटीएफ टीम का शिकंजा जालसाज शिक्षकों पर लगातार कसता जा रहा है। गुरुवार को खंड शिक्षा अधिकारी ने बीएड की फर्जी डिग्री पर नौकरी करने वाले दो शिक्षकों के खिलाफ कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है। मुकदमा दर्ज करने के बाद कोतवाली पुलिस आरोपित शिक्षकों की गिरफ्तारी में जुट गई है।

एसटीएफ ने सदर विकास खंड के पूर्व माध्यमिक विद्यालय चकमुंडेरा में तैनात सहायक अध्यापक मंजू यादव पत्नी सुरेंद्र यादव निवासी मुंडेरा थाना कोतवाली के प्रमाण पत्रों की जांच किया। जिसमें पाया गया कि बीएड की डिग्री महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ वाराणसी की लगाई गई है। जांच में पता चला कि विश्वविद्यालय में उस अनुक्रमांक का कोई अभिलेख नहीं है। इसी तरह चकमाधो उर्फ मठिया पूर्व माध्यमिक विद्यालय पर सहायक अध्यापक दीपक कुमार मिश्र निवासी धनौती खुर्द के बीएड के प्रमाण पत्र की जांच की गई। जिसमें पता चला कि जो डिग्री लगाई गई है, उस अनुक्रमांक पर दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय गोरखपुर में दिलीप कुमार पांडेय का नाम अंकित है। रिपोर्ट मिलने के बाद खंड शिक्षा अधिकारी विनोद तिवारी ने दोनों फर्जी शिक्षकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। कोतवाल राजू सिंह ने कहा कि मुकदमा दर्ज कर विवेचना की जा रही है। आरोपितों को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

इंस्पेक्टर समेत 20 पुलिसकर्मियों के कार्यक्षेत्र में बदलाव

देवरिया: कानून-व्यवस्था को लेकर पुलिस अधीक्षक डा.श्रीपति मिश्र ने बुधवार की रात एक निरीक्षक समेत 20 पुलिसकर्मियों के कार्यक्षेत्र में फेरबदल कर दिया। निरीक्षक लालजी यादव को अपराध इंस्पेक्टर बरहज बनाया गया है। करौंदी चौकी प्रभारी रामप्रवेश को सलेमपुर, विपिन कुमार मलिक को सदर कोतवाली का वरिष्ठ उप निरीक्षक बनाया गया है। पुलिस लाइन से दुर्गा प्रसाद पांडेय को चौकी प्रभारी करौंदी बाजार, हरिलाल राव को नवलुपर चौकी प्रभारी से चकरा गोसाई चौकी प्रभारी, हीरामन गोड़ को भाटपाररानी से नवलपुर पुलिस चौकी का प्रभारी बनाया गया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021