बरेली,जेएनएन। इज्जतनगर थाने में लव जिहाद का आरोप लगाने का मामला सामने आया है । पीडि़ता का आरोप है कि दूसरे संप्रदाय के युवक ने उसे प्रेम जाल में फंसाकर शादी कर ली। एक साल तक पत्नी की तरह रखा। गर्भवती होने पर युवक और उसके परिजनों ने पेट में लात मारकर गर्भ गिरा दिया। युवती की तहरीर पर शुक्रवार रात को पुलिस ने दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कर लिया।
पीडि़ता ने बताया कि वह प्राइवेट नौकरी करती है। नवंबर 2019 को इज्ज्तनगर के परतापुर निवासी ताहिर हुसैन ने उसे प्रेमजाल में फंसाया फिर मंदिर में जाकर मांग भर दी। उसके साथ ही रहने लगा। वह दो माह पहले गर्भवती हो गई। पता चलने पर शादी का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए ताहिर से कहा। परंतु उसने अनसुनी कर दी। आरोप है कि 20 नवंबर को वह ताहिर के घर गई और उसके स्वजन से कहा तो ताहिर, उसकी मां और भाई सगीर हुसैन व मुन्ना ने उसे पीटा। उसके पेट में लात मारी। इससे दो माह का गर्भ भी गिर गया। युवती का कहना है कि ताहिर ने उससे यह भी कहा कि उसने लव जिहाद के लिए प्यार में फंसाया था। उसे गर्भवती कर छोडऩा ही उसका मकसद था। इंस्पेक्टर केके वर्मा का कहना है कि दुष्कर्म, पिटाई कर गर्भ गिराने की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

ऐसे मामले लव जिहाद कानून के तहत होंगे दर्ज

 वहीं डीआइजी राजेश पांडेय का कहना है कि लव जिहाद पर बने कानून संबंधित निर्देश शनिवार को मिल गए हैं। अब ऐसे मामलों पर इसी नये कानून के तहत मुकदमें दर्ज किए जाएंगे। इज्जतनगर में हुई घटना की रिपोर्ट शुक्रवार रात को दर्ज की गई है। उसमें लव जिहाद का मामला भी पुष्ट नहीं हो रहा। दोनों मर्जी से साथ थे, बाद में विवाद हो गया।  
 

Edited By: Sant Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट