जागरण संवाददाता, करनाल : पिछले महीने सरकारी स्कूल के शिक्षक पर जान से मारने की नीयत से योजन अनुसार हमला किया गया था। यह रहस्योद्घाटन पुलिस द्वारा काबू किए गए आरोपितों ने किया है।

इस मामले में अमित कुमार वासी गावं गढी बीरबल गांव कलरी जागीर के सरकारी स्कूल में अध्यापक से ड्यूटी के बाद 11 जनवरी को नठोडी नहर पुल के पास से अपने घर जा रहा था। उस समय बिना नम्बर की तीन बाइक पर सवार छह युवकों ने उसका रास्ता रोक कर उसके साथ लाठी-डण्डों के साथ मारपीट की। सोने की चेन व सोने की अंगूठी छीनकर आरोपित उसे घायल कर मौका से फरार हो गये थे। मामले की जांच सीआइए टू कर रही थी।

अब टीम ने आोपित विक्की, प्रवीण कुमार वासीयान गांव बडचपुर जिला कुरुक्षेत्र, महाबीर सिंह वासी बेडसा जिला अंबाला, सरवन कुमार वासी गांव बलवा खेडी जिला मुजफ्फरनगर व मोहित कुमार वासी गांव शेरगढ़ खालसा को शाहाबाद के समीप से काबू किया। पूछताछ में उन्होंने माना कि अपने छठे साथी आरोपित अंकित वासी गांव बीबीपुर के साथ मिलकर अमित को जान से मारने की नीयत से वारदात को अंजाम दिया था। उन्होंने यह भी माना कि नवीन वासी गांव धुमसी ने आपसी रंजिश का बदला लेने के लिए अमित को जान से मारने का प्लान बनाया था और नवीन के कहने पर ही वारदात को अंजाम दिया था। आरोपितों को अदालत में पेश कर दो दिन के रिमांड पर लिया गया है। रिमांड अवधि के दौरान मामले में और भी खुलासे होने की संभावना है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप