संस, हाथरस : कोरोना को देखते हुए सुरक्षा इंतजामों के बीच महाविद्यालयों में सोमवार से पढ़ाई शुरू हो जाएगी। इसके लिए महाविद्यालयों में व्यवस्थाओं कर ली गई है।

कोरोना संक्रमण की वजह से मार्च से ही महाविद्यालयों में पढ़ाई ठप है। पिछले महीने डॉ.बीआर आंबेडकर विश्वविद्यालय ने महाविद्यालयों में अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों की परीक्षा कराई थी। अब सत्र 2020-21 में विद्यार्थियों की पढ़ाई प्रभावित न हो, इसको देखते हुए पिछले दिनों दिशा निर्देश सरकार की ओर से जारी किए गए। अब सोमवार से महाविद्यालयों में पढ़ाई शुरू हो जाएगी। विश्वविद्यालय ने अभी एमए फाइनल के विद्यार्थियों की कक्षाएं संचालित करने के निर्देश महाविद्यालयों को दिए हैं। शनिवार को बागला महाविद्यालय, सरस्वती महाविद्यालय और आरडी कन्या महाविद्यालय में कक्षाओं को सैनिटाइज कराया गया। बागला महाविद्यालय के प्राचार्य राजकमल दीक्षित ने बताया कि कक्षाओं में छह फीट की दूरी पर विद्यार्थियों को बैठाया जाएगा। इसके साथ ही हर कक्षा के बाहर सैनिटाइजर की व्यवस्था रहेगी। आरडी कन्या महाविद्यालय की प्राचार्य मीता कौशल का कहना है कि अभी विश्वविद्यालय ने एमए अंतिम वर्ष की कक्षाओं को संचालित करने के निर्देश जारी किए हैं। गाइडलाइन के मुताबिक बिना मास्क के छात्राओं को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इसके साथ कक्षाओं के संचालित हो जाने के बाद बाहरी लोगों का महाविद्यालय में प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। वित्तविहीन महाविद्यालयों पर रहेगी नजर

वित्तविहीन महाविद्यालयों को भी नियमों का पालन करना पड़ेगा, लेकिन ग्रामीण अंचल में संचालित वित्तविहीन महाविद्यालयों में कोविड 19 के नियमों का पालन किया जाएगा या नहीं यह देखने वाल बात होगी। बहरहाल कहा यही जा रहा है कि विश्वविद्यालय की टीम लगातार वित्तविहीन महाविद्यालयों का औचक निरीक्षण करके व्यवस्था देखेगी। ये हैं गाइडलाइंस -

-रोस्टर में लगेंगी कक्षाएं, गाइडलाइंस का होगा पालन

-कक्षा की क्षमता से आधे विद्यार्थियों को ही बुलाना है।

-मास्क और फेस कवर अनिवार्य है।

- गेट पर थर्मल स्क्रीनिग की जाएगी।

-कंटेनमेंट जोन से आने वाले शिक्षक, छात्रों और कर्मचारियों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस