अमेठी : विकास खंड जगदीशपुर की 44 ग्राम पंचायतों में तैनात सफाई कर्मचारियों के पास सफाई किट न होने के चलते सफाई व्यवस्था प्रभावित हो रही है। एडीओ पंचायत ने ग्राम पंचायत सचिव व प्रधानों को सफाई कर्मचारियों को साफ-सफाई के लिए उपकरण एवं किट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए थे।

उत्तर प्रदेश ग्राम पंचायत राज्य सफाई कर्मचारी संघ के ब्लाक अध्यक्ष दिनेश चन्द्र तिवारी ने बताया कि 13 अक्टूबर को एडीओ पंचायत को मांग पत्र दिया गया था। कि ब्लाक के नियांवा के सराय आलम,सरांय हेतम, सिठौली, ढुड़ेहरी व सिदुरवा सहित 44 ग्राम पंचायतों व उनके राजस्व गांवों में सफाई कर्मचारियों के पास सफाई किट व सामग्री न होने के कारण गांवों में सफाई कार्य सुचारू रूप से करने में परेशानी हो रही है। मांगपत्र देने के बाद भी अभी तक किट व सामग्री उपलब्ध नहीं कराई गई। एडीओ पंचायत सुरेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि सभी सचिवों व ग्राम प्रधानों को किट व सामग्री उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। जल्द ही सभी सफाई कर्मचारियों को किट उपलब्ध करा दी जाएगी।

कस्बे में गंदगी ही गंदगी :

मुंशीगंज कस्बे में गन्दगी के अंबार हैं। नलियां कूड़े के ढेर से पट गई हैं, जिससे घरों का पानी सड़क पर ही बहता रहता है। वहीं, गंदगी के चलते मच्छरों का भी प्रकोप बना हुआ है। इसी क्रम में सफाईकर्मी कभी आते तक नहीं है। पप्पू मोदनवाल, संदीप अग्रहरी, कमलेश, शैलेंद्र सिंह और अरुण आदि लोगों ने बीडीओ को पत्र लिखकर सफाई व्यवस्था दुरुस्त कराने की मांग की है।

पुलिया की रेलिग टूटी :

अमेठी-मुसाफिरखाना मार्ग पर पनियार चौराहे से सोरांव गांव के पास पुलिया की रेलिग टूट गई है, जिससे दुर्घटना की आशंका बनी रहती हैं। क्षेत्र के रामकुमार, राधेश्याम, हौसला प्रसाद, रमेश जायसवाल, विनोद कुमार, पंकज आदि लोगों ने जिलाधिकारी को पत्र लिखकर पुलिया ठीक करने की मांग की हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस