बरेली, जेएनएन : समाजवादी पार्टी कार्यालय में रविवार को पार्टी संरक्षक पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव (नेताजी) का जन्मदिन मनाया गया। लंबे समय बाद पार्टी के कार्यक्रम में लगभग सभी बड़े नेता जुटे, मगर दो गुटों में दूरी बनी रही। स्थिति यह थी कि केक काटने के लिए दो बार कार्यकर्ताओं व पदाधिकारियों को इकट्ठा करना पड़ा।

जिलाध्यक्ष अगम मौर्य, महानगर अध्यक्ष शमीम खां सुल्तानी के साथ सभी पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने केक काटा। सभी ने अपने नेता की दीर्घायु की कामना की। कार्यक्रम चल रहा था, उसी दौरान पार्टी के दो पूर्व मंत्री आपस में दूरी बनाए दिखे। दोनों अपने समर्थकों के साथ अलग कमरों में बैठे रहे। परिसर में जब केक काटा जाने लगा तो उनमें से एक नेता शामिल हो गए, यह देख दूसरे नेता ने दूरी बन ली। वह अन्य नेताओं को मिठाई खिलाते दिखे। इस बीच केक कार्यालय में भिजवा दिया गया। कुछ देर बाद जिलाध्यक्ष ने सभी को दोबारा एकत्र किया और केक आटा। इस दौरान डॉ. आइएस तोमर, अताउर रहमान, भगवत सरन गंगवार, शहजिल इस्लाम, महिपाल यादव, सुल्तान बेग, सत्येंद्र यादव, शुभलेश यादव, प्रमोद बिष्ट, जफर बेग, रविदर यादव, गौरव सक्सेना, रईस मियां अब्बासी आदि मौजूद रहे।

उधर, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के सुरेश शर्मा नगर स्थित कार्यालय पर भी केक काटकर मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन मनाया गया। इस दौरान वीरपाल सिंह यादव, मलखान सिंह यादव, डॉक्टर मोहम्मद खालिद आदि मौजूद रहे। सपा नेता ने की आपत्तिजनक पोस्ट, वायरल

रविवार शाम को इंटरनेट मीडिया पर की गई एक पोस्ट से सपा में चर्चा शुरू हो गई। पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य ने जिले के एक पदाधिकारी पर आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी। पदाधिकारी के लिए लिखा कि वह बदायूं के रहने वाले हैं। आंवला से चुनाव लड़े और अब पार्टी के प्रमुख वर्ग को पीछे कर खुद संगठन में अहम कुर्सी हासिल कर ली। पोस्ट में आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल भी किया गया।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस