सहरसा। बुधवार को रेल सुरक्षा बल के प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त सह महानिरीक्षक एस मयंक ने कहा कि भारत- नेपाल सीमावर्ती क्षेत्र होने के कारण सीमा से नजदीक के स्टेशनों पर सुरक्षा की चाक चौबंद व्यवस्था की जा रही है। स्टेशनों की सुरक्षा व्यवस्था को बढ़ाने के लिए सीमाई इलाका में हर एग्जिट प्वाइंट पर सिक्युरिटी की तैनाती की जाएगी। जबकि निर्मली स्टेशन पर आरपीएफ का पोस्ट बनाया जाएगा।

सहरसा पहुंचे आयुक्त ने कहा कि सहरसा- फारबिसगंज, सरायगढ़- निर्मली रेल क्षेत्र अंतर्गत आसपास स्टेशनों को चिह्नित कर सुरक्षा व्यवस्था को दुरूस्त करने के लिए स्थानीय पुलिस, जीआरपी और आरपीएफ की टीम को तैयार कर तैनाती की जाएगी। कोरोना काल को लेकर पहले सीमा क्षेत्र बंद थी लेकिन अब भारत- नेपाल बॉर्डर इलाका को खोल दिया गया है। उन्होंने कहा कि सहरसा- निर्मली और सहरसा- फारबिसगंज और एनएफ रेलवे से जुड़ने के बाद सहरसा स्टेशन पूर्व मध्य रेल समस्तीपुर मंडल का सबसे बड़ा स्टेशन होगा। इसके लिए अभी से ही मास्टर प्लान तैयार किया जा रहा है। यात्रियों की सुरक्षा के लिए स्टेशन पर मेटल डिटेक्टर और स्केनर की व्यवस्था की जाएगी। पूर्व मध्य रेल के छोटे-बड़े सभी स्टेशनों के लिए सिक्युरिटी प्लान जल्द तैयार होगा। स्टेशन की सुरक्षा के लिए चारदिवारी का निर्माण किया जाएगा। वहीं सहरसा स्टेशन पर सीसीटीवी लगा दिया गया है। इसके अलावा जरूरत पड़ने और लगाया जाएगा। इसके अलावा अन्य स्टेशनों पर भी सीसीटीवी को लगाया जाएगा।

-------------------

सहरसा स्टेशन पर महिला पुलिस की होगी तैनाती

महानिरीक्षक सह प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त एस मयंक ने बातचीत के दौरान कहा कि सहरसा का जुड़ाव अब दरभंगा- निर्मली और फारबिसगंज से होने के बाद अब इस रेल खंड पर महिला स्कार्ट की तैनाती की जाएगी। सहरसा आउटपोस्ट सहित अन्य स्टेशनों पर भी महिला पुलिस बल की तैनाती होगी। सहरसा- निर्मली नयी रेल लाइन चालू हो जाने के बाद निर्मली स्टेशन पर आपीएफ पोस्ट बनाया जाएगा। इससे पहले झंझारपुर में पहले से ही आरपीएफ पोस्ट बनाया गया है।

----------------------

होली को लेकर ट्रेनों की बढ़ेगी सुरक्षा

आईजी ने कहा कि होली त्योहार काफी नजदीक है। इसलिए सहरसा सहित अन्य रेलवे स्टेशनों पर आरपीएफ की विशेष नजर रहेगी। होली पर्व को लेकर चलती ट्रेन में लोग मिट्टी एवं पत्थर फेंककर यात्रियों को नुकसान पहुंचाते है। इसीलिए इस बार आरपीएफ स्थानीय पुलिस की मदद लेकर ऐसे संभावित स्थलों को चिह्नित कर उसकी पेट्रोलिग की जाएगी। साथ ही आरपीएफ की एक टीम तैयार की जाएगी। टीम इस पर निगरानी रखेगी। आईजी के साथ मौजूद समस्तीपुर मंडल के वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त अंशुमान राम त्रिपाठी ने कहा कि सहरसा स्टेशन पर आरपीएफ की संख्या बढ़ायी जाएगी वहीं अब महिला पुलिस बलों की तैनाती की जाएगी। साथ ही महिला पुलिस अब ट्रेनों में भी पेट्रोलिग करेगी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021