जालौन, जेएनएन। उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले में सिंचाई विभाग के निलंबित जूनियर इंजीनियर के घिनौने कृत्यों जैसा ही मामला जालौन जिले के उरई में सामने आया है। यहां दर्जनों किशोरों और किशोरियों का यौन शोषण करके उन्हें ब्लैकमेल करने के आरोपित सेवानिवृत्त कानूनगो रामबिहारी राठौर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। रामबिहारी राठौर ने पीड़ितों से सिर्फ हैवानियत ही नहीं की, बल्कि उन्हें ब्लैकमेल करने में भी सारी हदें पार कर दीं। वो शिकंजे में फंसे पीड़ितों को पुराने वीडियो दिखाकर प्रतिदिन पांच नए शिकार लाने का टारगेट देता था। ऐसा करने में असमर्थता जाहिर करने पर सब कुछ बर्बाद करने की धमकी देकर और प्रताड़ित करता था। ये सच पीड़ितों से पुलिस की पूछताछ में सामने आया है।

यूपी के उरई से गिरफ्तार आरोपित कानूनगो और भाजपा का कोंच नगर उपाध्यक्ष रहा रामबिहारी नाबालिगों को रुपये देकर जाल में फंसाता था। फिर उन्हें गंदी फिल्में दिखाकर लत लगाता था। इसके बाद शारीरिक शोषण करके वीडियो बनाकर पीडि़त को ब्लैकमेल करता था। बताते हैं, छह माह पहले पत्नी की मौत के बाद आरोपित की अय्याशी और बढ़ गई थी। वह किसी बाहरी व्यक्ति को अपने कमरे में रुकने नहीं देता था। 

मदद से छिपाता था गुनाह : आरोपित अपने गुनाह छिपाने के लिए पीड़ितों की आर्थिक मदद करता था। अपने घर से कुछ दूर ही गरीबों की बस्ती में उसने आसानी से शिकार फंसाए। उन्हें अपनी चार पहिया गाड़ी में सैर भी कराई। कभी किसी ने आवाज उठाई तो सियासी छतरी उसकी मददगार बनती रही। 

मिले वीडियो 2016 से बाद के, होगा नारको टेस्ट : कोंच के मोहल्ला भगत सिंह नगर निवासी सेवानिवृत्त कानूनगो के पास से वर्ष 2016 के बाद के वीडियो ज्यादा मिले हैं। इनमें नाबालिगों के साथ ही महिलाओं, किशोरियों व युवतियों के भी अश्लील वीडियो हैं। पुलिस के पास चार साल के उसके कुकृत्यों के पक्के साक्ष्य हैं। राम बिहारी ने पूरा सेवाकाल कोंच और नदीगांव ब्लॉक में गुजारा। उसने पुलिस के सामने कबूला है कि चार साल से नाबालिगों का उसके घर आना-जाना था। एसपी डॉ. यशवीर सिंह ने बताया कि जरूरत पर नार्को टेस्ट कराया जाएगा। प्रत्येक बिंदु पर पड़ताल हो रही है।

200 से अधिक को शिकार बनाने की आशंका : बता दें कि सेवानिवृत्त कानूनगो रामबिहारी राठौर को बुधवार को जालौन जिले के कोंच कस्बा स्थित मोहल्ला भगत सिंह नगर से किशोरों के यौनशोषण के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। अभी तक कुकर्म के सात मामलों की पुष्टि हो चुकी है, जिनमें दो पीड़ितों ने मुकदमा भी दर्ज कराया है। आशंका है कि उसने 200 से अधिक किशोर और किशोरियों को अपनी हैवानियत का शिकार बनाया। आरोपित के घर से एक लैपटॉप, पेन ड्राइव, डीवीआर, एक्सटर्नल हार्ड डिस्क व दो करीब हजार अश्लील वीडियो व फोटो बरामद हुए हैं। उधर, भाजपा में नगर उपाध्यक्ष रहे आरोपित को पार्टी ने निष्कासित कर दिया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021