जेएनएन, बदायूं : कोटे की दुकानों पर ई-पॉस से राशन बंट रहा है। लेकिन, सैनिटाइजर व शारीरिक दूरी का पालन नहीं किया जा रहा है। बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने फिर सख्ती बरतने के आदेश दिए हैं। अब सैनिटाइजेशन कराकर ही खाद्यान्न वितरण होगा। शारीरिक दूरी का पालन कराने के लिए टोकन देकर एक बार में सिर्फ पांच लोगों को ही दुकान पर बुलाया जाएगा। इससे कोटे की दुकान पर कार्डधारकों की भीड़ नहीं लगे। इसके साथ ही कोरोना संक्रमण फैलने की आशंका को खत्म किया जा सके।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना में अब गरीबों को प्रति यूनिट पांच-पांच किलो निश्शुल्क खाद्यान्न वितरण कराया जा रहा है। अंत्योदय तथा पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को एक-एक किलो चना का भी बांटा जा रहा है। लॉकडाउन में शारीरिक दूरी बनाकर जिस तरह टोकन के माध्यम से पांच-पांच लोगों को बुलाकर राशन वितरण कराया गया था। अनलॉक में कोरोना संक्रमण के फिर से बढ़ते केसों के बीच अब वही व्यवस्था फिर से लागू की जा रही है। जिलाधिकारी कुमार प्रशांत ने जिला पूर्ति अधिकारी समेत सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए कोटे की सभी दुकानों पर सैनिटाइजर, साबुन और पानी का इंतजाम कराएं। हाथ धुलवाकर सैनिटाइज करने के बाद ही ई-पॉस मशीन से अंगूठा लगवाया जाए। शारीरिक दूरी का पालन कराने के लिए एक मीटर पर घेरा बनाए और टोकन देकर एक बार में पांच लोगों को ही बुलाएं। उन्होंने हिदायत दी है कि नोडल अधिकारी अनिवार्य रूप से वितरण स्थल पर मौजूद रहें, अनुपस्थित रहने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस