जागरण संवाददाता, अररिया: जिला पदाधिकारी प्रशांत कुमार सीएच की अध्यक्षता में लोक कल्याणकारी एवं विकासात्मक योजनाओं के क्रियान्वयन एवं प्रगति को लेकर जिला समन्वय समिति की समीक्षात्मक बैठक संबंधित विभागीय पदाधिकारी एवं प्रखंड विकास पदाधिकारियों अंचलाधिकारी पीओ मनरेगा के साथ समाहरणालय नया सभाकक्ष में की गई। जिलाधिकारी द्वारा बैठक को संबोधित होते करते हुए जिला स्थापना दिवस एवं मकर सक्रांति की शुभकामनाएं दिए। बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना, मनरेगा, स्वच्छ भारत मिशन, जल जीवन हरियाली अभियान, मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना, सामाजिक सुरक्षा, कब्रिस्तान घेराबंदी, अल्पसंख्यक कल्याण छात्रवृत्ति, एमएसडीपी, शिक्षा, सीडब्ल्यूजेसी, एमजेसी, एलपीए, लंबित दाखिला खारिज, अतिक्रमण, आईसीडीएस, पंचायत सरकार भवन, लंबित आपदा अनुदान, अभिलेखागार का आधुनिकरण सहित कई अन्य योजनावार कार्य की अद्यतन उपलब्धि एवं प्रगति को लेकर गहन समीक्षा की गई। प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा के क्रम में डीआरडीए निदेशक द्वारा बताया गया कि वित्तीय वर्ष 2020-21 में दिसम्बर माह तक 23500 स्वीकृत आवास के विरुद्ध लाभुकों को प्रथम एवं द्वितीय किस्त भुगतान हेतु अग्रेत्तर कार्रवाई की जा रही है। जिला पदाधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया कि मार्च 2021 तक हरहाल में निर्धारित लक्ष्य को पूर्ण करें। लक्ष्य को पूर्ण करने के लिए कैंप लगाने का निर्देश दिया गया। मनरेगा की समीक्षा के दौरान निर्देशित किया गया कि मछली का बिचड़ा एवं मखाना की खेती योग्य निजी तालाब/पोखरों की सूची एक सप्ताह के अंदर समर्पित करें। समीक्षा के क्रम में बताया गया कि सार्वजनिक जल संचयन संरचनाओं को चिन्हित कर अतिक्रमण मुक्त कराया जा रहा है। इस पर जिला पदाधिकारी द्वारा शेष तालाबों को जल्द से जल्द अतिक्रमण मुक्त कराने का निर्देश अपर समाहर्ता को दिया गया। मुख्यमंत्री ग्राम परिवहन योजना की समीक्षा के क्रम में बताया गया के 755 लाभुकों को इस योजना का लाभ दिया गया है जो निर्धारित लक्ष्य का 49.48 प्रतिशत उपलब्धि है। सामाजिक सुरक्षा की समीक्षा के क्रम में सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा द्वारा बताया गया कि कुल प्राप्त 79579 आवेदन के विरुद्ध 68327 आवेदन स्वीकृत किए गए हैं। दाखिल खारिज की समीक्षा में पाया गया कि निष्पादन की प्रक्रिया धीमी है। इस पर जिला पदाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि दाखिल खारिज का निष्पादन हर हाल में ससमय सुनिश्चित करें। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। आसीडीएस की समीक्षा के क्रम में जिला प्रोग्राम पदाधिकारी द्वारा बताया गया है कि मनरेगा योजना के तहत 27 आंगनवाड़ी केंद्र चिन्हित किए गए हैं। जिसमें से 5 आंगनवाड़ी केंद्रों पर कार्य पूर्ण हो चुका है। शेष सात पर प्रक्रियाधीन है। शेष पर विवाद है। सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी के द्वारा दिनांक 21से 24 दिसंबर तक के कैम्प लगाकर कुल 89 जमीन चिन्हित किए गए हैं जिस पर आंगनवाड़ी भवन बनाया जाना है। जिला पदाधिकारी द्वारा विवादित स्थलों पर अंचल अधिकारी से समन्वय स्थापित कर अग्रेत्तर कार्रवाई हेतु निर्देशित किया गया। पंचम वित्त आयोग की समीक्षा के क्रम में प्रखंड विकास पदाधिकारी अररिया द्वारा विभिन्न योजनाओं के तहत बेहतर कार्य करने की सराहना करते हुए सभी बीडीओ को उनके कार्य का अनुकरण करने का निर्देश दिए। संबंधित कार्यपालक अभियंता को निर्देशित किया गया कि वन विभाग से समन्वय स्थापित कर सड़क के दोनों तरफ वृक्षारोपण का कार्य करना सुनिश्चित करें। जिला पदाधिकारी द्वारा संबंधित पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि जो योजना अपूर्ण है उसे निर्धारित समय सीमा के अंदर यथाशीघ्र पूर्ण करना सुनिश्चित करें। योजनाओं के क्रियान्वयन में किसी प्रकार की लापरवाही नहीं बरती जाय। संबंधित पदाधिकारी से समन्वय बनाकर कार्य का निष्पादन निर्धारित मापदंड के अनुरूप गुणवत्ता पूर्ण पारदर्शिता के साथ कार्य सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया। बैठक में उप विकास आयुक्त मनोज कुमार, अपर समाहत्र्ता अनिल कुमार ठाकुर, डीआरडीए निदेशक, जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी, जिला कल्याण पदाधिकारी, जिला स्थापना उप समाहर्ता, जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, प्रभारी पदाधिकारी विधि शाखा, जिला प्रोग्राम पदाधिकारी आईसीडीएस, प्रभारी पदाधिकारी आपदा, नजारत उप समाहर्ता, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, सहायक निदेशक सामाजिक सुरक्षा कोषांग एवं संबंधित कार्यपालक अभियंता, सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचलाधिकारी तथा पीओ मनरेगा उपस्थित थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021