रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Para Teacher News गैर शिक्षक पात्रता परीक्षा (टेट) उत्तीर्ण पारा शिक्षकों ने मंगलवार को प्रोजेक्ट भवन में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से मुलाकात कर कार्यानुभव के आधार पर वेतनमान देने व स्थायीकरण की मांग की। झारखंड राज्य अनुबंध कर्मचारी महासंघ तथा इससे संबद्ध झारखंड राज्य प्रशिक्षित पारा शिक्षक संघ के प्रतिनिधिमंडल के साथ हुई वार्ता में मुख्यमंत्री को बताया कि लगभग 55 हजार पारा शिक्षक टेट उत्तीर्ण नहीं हैं।

सीएम से मिलने पहुंचे प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि पारा शिक्षकों के लिए तैयार वर्तमान नियमावली से वे वेतनमान से वंचित हो जाएंगे। साथ ही प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को अप्रशिक्षित पारा शिक्षकों को 22 माह से मानदेय नहीं मिलने की जानकारी देते हुए कहा कि उनके समक्ष आर्थिक संकट उत्पन्न हो गई है।

गैर टेट पारा शिक्षकों को कार्यानुभव के आधार पर वेतनमान देने की मांग पर मुख्यमंत्री ने कहा कि नियमावली का प्रारूप तैयार है। प्रारूप उनके पास आने के बाद वे उनकी मांगों पर स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के पदाधिकारियों से बात करेंगे। उन्होंने आश्वासन दिया कि नियमानुसार जो भी संभव होगा वह पूरा किया जाएगा। प्रतिनिधिमंडल के अनुसार, मुख्यमंत्री ने उन्हें यह भी आश्वस्त किया कि किसी पारा शिक्षक को सेवा से हटने नहीं दिया जाएगा। प्रतिनिधिमंडल में विक्रांत ज्योति, सुशील पांडेय, सिद्दीख शेख, विकास चौधरी, अभिलाषा झा आदि शामिल थे।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप