समस्तीपुर। सदर अस्पताल में अब मरीजों को ऑक्सीजन की आपूर्ति गैस सिलेंडर से नहीं, बल्कि पाइपलाइन से होगी। फिलहाल, सदर अस्पताल के एसएनसीयू में पाइपलाइन से ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है। अब इमरजेंसी वार्ड में ऑक्सीजन पाइपलाइन लगाने का काम चल रहा है। अस्पताल प्रबंधक विश्वजीत रामानंद ने बताया कि सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के पीछे एक ऑक्सीजन गैस का प्लांट बनाया जाएगा। इस प्लांट में बाहर से वाहनों से ऑक्सीजन गैस लाकर भरा जाएगा। जहां से पाइपलाइन के माध्यम से इमरजेंसी वार्ड में भेजा जाएगा। जल्द ही अस्पताल में यह सुविधा शुरू हो जाएगी। इमरजेंसी वार्ड के कक्ष में चार और ओटी में दो बेड के लिए सप्लाई दी जानी है। मरीजों को मिलेगी राहत सदर अस्पताल में पाइप लाइन से ऑक्सीजन की सप्लाई से आपातकाल में मरीज को ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए इधर-उधर भटकना नहीं पड़ेगा। अभी सदर अस्पताल में आपातकाल में लाए गए किसी मरीज को ऑक्सीजन की जरूरत होने पर सिलेंडर लगाने के लिए ड्यूटी पर तैनात स्वास्थ्य कर्मियों को खोजने के परिजनों को इधर-उधर भटकना पड़ता है। लेकिन अब इमरजेंसी में ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए यह स्थिति पैदा नहीं होगी। इसके लिए वार्ड के बेड के पास दीवार पर छोटा सा यंत्र लगाया गया है और ऑक्सीजन मॉस्क लगाए जाने की प्रक्रिया चल रही है। ताकि किसी भी मरीज को ऑक्सीजन की जरूरत होने पर तत्काल ऑक्सीजन दिया जाए सके।

ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी से पूर्व में हो चुकी है परेशानी

सदर अस्पताल में पूर्व में ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी का मामला कई बार उजागर हो चुका है। इसको लेकर मरीजों की जान तक जा चुकी है। ऐसे में पाइपलाइन के माध्यम से ऑक्सीजन की सुविधा की शुरुआत होने से सभी को राहत मिलने लगेगी। ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी और ऑक्सीजन खत्म होने से कई बार मरीजों की जान तक जा चुकी है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस