जागरण संवाददाता, चित्रकूट : भरतकूप थानांतर्गत लूक में प्रवासी मजदूर ने फांसी लगा जान दे दी। सुबह स्वजन ने उसे कमरें फंदे से लटकता देखा तो सभी के होश उड़ गए। वह सूरत के काम करते थे और अप्रैल में घर लौटा था।

लूक निवासी 25 वर्षीय अरविद कुमार पुत्र मैयादीन सूरत में प्राइवेट कंपनी में काम करते थे। अप्रैल में काम धंधा बंद होने पर गांव आए थे। शनिवार की रात अरविद परिवार के साथ भोजन करने के बाद अपने कमरे में सोने चले गए थे। देर रात उसने अपने कमरें में रस्सी से फंदा बनाकर जान दे दी। स्वजन ने सुबह जगाने पहुंचे तो कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था। आवाज लगाने पर भी कमरा नहीं खुला तो दरवाजे से झांक कर देखा। वह फांसी पर लटके थे। घर में कोहराम मच गया। पिता मैयादीन ने बताया कि अरविद तीन भाइयों में सबसे छोटा था। सूरत में रहकर काम करता था। अप्रैल में वापस आया था। यहीं पर मजदूरी कर रहा था। अरविद की दो साल पहले शिवरामपुर कस्बा निवासी सुमन के साथ शादी हुई थी। किस कारण से उसने फांसी लगा ली है पता नहीं हैं। भरतकूप थाना प्रभारी संजय उपाध्याय ने बताया कि अरविद शनिवार की शाम शराब पीकर घर पहुंचा था जिसको लेकर पिता से विवाद हुआ था। पिता ने शराब के लिए डाटा था।

------------------

घर की सफाई कर रही महिला को जबरन पीटा, मुकदमा दर्ज

जासं, चित्रकूट : बरगढ़ थानातंर्गत कोलमजरा गांव निवासी सत्यनारायण त्रिपाठी ने बताया कि पत्नी आशा तिवारी शनिवार सुबह अपने घर के सामने सफाई कर रही थी। इसी दौरान जेठ श्याम तिवारी पहुंचे और आशा पर आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल करना शुरु कर दिया। इस पर विरोध जताने पर श्याम ने आशा को घसीटते हुए पीटना शुरु कर दिया। श्याम की पिटाई से आशा को काफी चोटें भी आई। आरोपित ने पुलिस में जाने पर जान से मारने की धमकी देते हुए छोड़ दिया। पीड़ित महिला ने थाने पहुंच आरोपित के खिलाफ नामजद तहरीर देते हुए गिरफ्तारी की मांग की है। बरगढ़ थानाप्रभारी रविप्रकाश ने बताया कि पीड़ित महिला की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपित के गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस