मऊ, जेएनएन। लव जिहाद व धर्मांतरण कराने के मामले में पुलिस को मंगलवार को बड़ी कामयाबी हाथ लगी। शादी से मात्र दो दिन पूर्व युवती को भगा ले जाने वाले मुख्य आरोपित के पत्नी-भाई सहित पांच को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। साथ ही मुख्य आरोपित की गिरफ्तारी के लिए तथा युवती के बरामदगी के लिए पुलिस उसके संभावित ठीकानों पर छापेमारी कर रही है।

चिरैयाकोट थाना क्षेत्र के एक प्रतिष्ठित परिवार की युवती की शादी एक दिसंबर को थी। इससे दो दिन पूर्व 29 नवंबर की रात अचानक युवती लापता हो गई। परिजनों की जांच-पड़ताल में पता चला कि उनका पड़ोसी शबाब उर्फ राहुल खान अपने रिश्तेदारों के साथ चार पहिया वाहन से भगा ले गया। पीडि़त पिता ने थाने में तहरीर दिया। तहरीर में उल्लेख किया कि आरोपित पड़ोसी उनकी पुत्री को बहला-फुसलाकर धर्म परिवर्तन कराने के उद्देश्य से अपहरण कर ले गया है। पिता ने बताया है कि चिरैयाकोट कस्बे के मोलनागंज निवासी शबाब उर्फ राहुल खान, पत्नी रूखसाना उर्फ मुन्नी, इस्लाम खान उर्फ टिमल, झिंटू उर्फ अकबर अली, अफसाना बेगम, सन्नी उर्फ नदीम, बलिया जनपद के रसड़ा निवासी जफरूल उर्फ दुसड़ी, चिरैयाकोट कस्बा के जमीन बुढ़ान निवासी यासीर उर्फ मोड़ा तथा पश्चिम बंगाल के 24 परगना काजी पाडा महेशताला निवासी नवाब खान, अरबाज खान, मोंडल पाडा जलखुस महेशताला निवासी सुकुमार दास, गुवतला मस्जिद बिलजला महेशताला निवासी अफरोज खान उर्फ घून्नू, नुरूल खान, हुस्न बानो का एक सक्रिय गिरोह है।

यह प्रदेश सहित अन्य प्रदेशों की हिंदू भोली-भाली लड़कियों को प्रलोभन देकर या जबरन अपहरण कर उनका मानसिक, शारीरिक शोषण करके धर्म परिवर्तन कराते हैं। पीडि़त की तहरीर पर पुलिस ने तीन महिलाओं सहित 14 नामजद के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू की। मंगलवार को पुलिस ने बड़हलगंज पुलिया से नुरूल खान, शिवकुमार दास व भाई अकबर अली तथा भोगवा जलालपुर से उसकी पत्नी रूखसाना उर्फ मुन्नी, हुस्नबानो को गिरफ्तार किया। थानाध्यक्ष रूपेश कुमार सिंह ने बताया कि मुख्य आरोपित की गिरफ्तारी व युवती की बरामदगी जल्द कर ली जाएगी। पुलिस उनके काफी करीब पहुंच गई है।

 

Edited By: saurabh chakravarti