मुजफ्फरपुर : मड़वन प्रखंड के भागवतपुर में तीन दिवसीय श्री हनुमान प्राण प्रतिष्ठा यज्ञ रविवार को कलश स्थापना के साथ ही शुरू हुआ। इससे पूर्व 151 कलश यात्रियों का जत्था मंदिर परिसर से कलश लेकर गाजे-बाजे के साथ विभिन्न मार्गों से होते हुए करजा स्थित कदाने नदी के तट पर पहुंचा। वहा वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच जलबोझी की गई। इसके बाद कलश यात्रियों का जत्था जय बजरंगबली के जयकारे के साथ विभिन्न मार्गो से होते हुए भागवतपुर हनुमान मंदिर परिसर में पहुंचा, जहा मंत्रोच्चारण के बीच कलश स्थापित की गई। कलश यात्रा में बड़ी संख्या में महिलाओं व युवतियों ने भाग लिया। स्थानीय पूर्व सरपंच राजेश कुमार रंजन ने बताया कि सोमवार को वेदी पूजन व मंगलवार को प्राण प्रतिष्ठा किया जाएगा। मौके पर हरिनंदन भगत समेत सैकड़ों श्रद्धालु उपस्थित थे।

दो दिवसीय अष्टयाम का समापन

सकरा प्रखंड की विष्णुपुर बघनगरी पंचायत के बनवारीपुर टोले के धर्मलाल ब्रह्मस्थान परिसर में आयोजित दो दिवसीय अष्टयाम महायज्ञ का रविवार को समापन हुआ। इस अष्टयाम संकीर्तन में सीता-राम, सीता-राम की गूंज से पूरे सकरा क्षेत्र का माहौल भक्तिमय बना रहा। अष्टयाम संकीर्तन व हवन में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया। समापन पर श्रद्धालुओं की भीड़ जुटी रही। आयोजकों के अनुसार इस अष्टयाम में 10 कीर्तन मंडलियों ने भाग लिया। अष्टयाम स्थल पर मेला जैसा नजारा था। समापन पर आसपास के गावों से श्रद्धालुओं ने भंडारे में महाप्रसाद ग्रहण किया। कार्यक्रम में मंदिर कमेटी अध्यक्ष रौशन मिश्रा, राजीव मिश्रा, मुन्ना मिश्रा, विकास मिश्रा, रूपेश मिश्रा, दीपक कुमार, गुलशन कुमार आदि सक्रिय रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस