जेएनएन, बदायूं : शासन के निर्देश पर रविवार को सभी गोशाला एवं गोआश्रय स्थलों पर गोपाष्टमी पर्व मनाया गया। गोमाता का पूजन कर गुड़, रोटी और हरा चारा खिलाया गया। पशुपालकों से आह्वान किया कि गोवंशीय पशुओं को छुट्टा न छोड़ें।

दातागंज रोड स्थित ब्रह्मदत्त गोशाला में हुए कार्यक्रम में नगर विकास राज्यमंत्री महेश चंद्र गुप्ता भी शामिल हुए। उन्होंने दानदाताओं की ओर से गोवंशीय पशुओं के चारे के लिए बनाई गई चार लड़ौरी और पानी की टंकी का शुभारंभ किया। यहां मौजूद 110 गोवंश को रोटी, गुण, हरा चारा भी खिलाया। राज्यमंत्री ने गोशाला संचालक सचिन भारद्वाज से गोशाला के सुदृढ़ीकरण कराने के लिए प्रस्ताव तैयार कराने के लिए कहा। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डा.एके जादौन ने कहा कि पशुपालक अपने गोवंश को छुट्टा न छोड़ें। एसके मल्होत्रा, अशोक खुराना, रवींद्र मोहन सक्सेना समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

कामधेनु गोशाला उझानी में 210 गोवंश को खुरपका एवं मुंहपका रोग से बचाने के लिए टीकाकरण कराया गया। उप मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डा. विजयवीर ने गोवंश आश्रय स्थल नौशेरा, खेड़ा बुजुर्ग पर गोपाष्टमी पर्व मनाया। भगवान परशुराम विद्या मंदिर इंटर कॉलेज में गोपाष्टमी गायों की विधिवत पूजा-अर्चना कर हरा चारा, हरी सब्जियां, गुड़ दलिया आहार खिलाया गया। पूर्व विधायक प्रेमस्वरूप पाठक ने बताया कि श्रीकृष्ण ने जिस दिन से गायों को पालन करना शुरू किया था, उसी दिन को गोपाष्टमी पर्व के रूप में मनाया जाता है। सेवा भारती के प्रांतीय उपाध्यक्ष रामबहादुर पांडेय, उर्मिला शर्मा, गीता शर्मा, पवन शंखधार, रघुराज सिंह आदि उपस्थित रहे।

गाय का तिलक कर महिलाओं ने की परिक्रमा

संसू, उझानी : अखिल विश्व गायत्री परिवार ने प्रखर बाल संस्कारशाला कैंप कार्यालय पर गोपाष्टमी का पर्व मनाया गया। महिलाओं ने गौ माता का तिलक लगाकर आठ परिक्रमा कर पुण्य अर्जित किया। गाय को गुड़ व चाना खिलाकर आरती की गई। गायत्री परिवार के संजीव शर्मा ने कहा कि विश्व गुरू भारत ने ऋषि-कृषि परंपरा से संपूर्ण दुनिया को श्रेष्ठ संस्कारों का दुर्लभ ज्ञान दिया। ऋषियों ने समाज, कृषि ने पर्यावरण के संतुलन और अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाया। दोनों परंपराओं को जीवंत और जागृत बनाने वाली गोमाता रहीं। अनीता अग्रवाल, ऋषि पाल त्रिवेदी, रामकुमार शर्मा, धर्मेद्र कुमार शर्मा, होरी शर्मा, शिवम मिश्रा, रामनिवास शर्मा, रीना शर्मा, आरती शर्मा, सौम्या, मृत्युंजय, हेंमत, दीप्ति, खुशबू आदि मौजूद रहे।

गोशाला में मंत्रोच्चार के साथ हुआ गोपूजन

नूरपुर पिनौनी : कस्बा स्थित अस्थायी गोशाला में गाय पूजन कर मुख्य सचिव निर्देशानुसार गोपाष्टमी का पर्व मनाया गया। पंडित हरपाल पुजारी ने मंत्रोच्चार द्वारा गौ पूजन ग्राम प्रधान मीरा शर्मा ने किया और गायों को गुड़ व फल खिलाए। पुजारी ने बताया कि हिदू धर्म में गोपाष्टमी का विशेष महत्व है हिदू पंचांग के अनुसार गोपाष्टमी हर साल कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाई जाती है। इस बार सरकार के मुख्य सचिव के निर्देशानुसार स्थायी व अस्थायी गोशाला व लोग अपने घर में गायों की पूजा कर के इस पर्व को श्रद्धा एवं उल्लास के साथ मनाते नजर आए। इस अवसर पर प्रधानपति संजय शर्मा, शिशुपाल शर्मा, बृजेश दीक्षित, पप्पू, ग्राम पंचायत सचिव आस मोहम्मद, नन्हे आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस