संवाद सूत्र, देवघर : श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण निधि समर्पण अभियान समिति की देवघर इकाई की ओर से गुरूवार को होली डे होम के सभागार में एक कार्यक्रम किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि अयोध्या के संत बाबा बालमुकुंद महाराज ने श्रीराम के आदर्श, व्यक्तित्व एवं चरित्र पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि श्रीराम शब्द का उल्लेख वेदों में भी किया गया है। श्रीराम शब्द का उच्चारण जिस घर में प्रतिदिन एक सौ आठ बार किया जाता है वहां मंगल ही मंगल होता है। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं विश्व हिदू परिषद के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह दोनों संगठन भारत के भावी पीढ़ी को सुसंस्कारित करने का कार्य कर रहा है। उन्होंने कहा कि श्री राम हिन्दू राष्ट्र भारत के प्राण हैं। राम हैं तो राष्ट्र है, राष्ट्र है तो श्री राम हैं। राम के आदर्श, चरित्र, व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर भी प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि दान देने वाले में अहंकार की भावना नहीं होनी चाहिए। तभी दान का पुण्य मिलता है। आज अयोध्या में श्री राम मंदिर का निर्माण होने जा रहा है। इस पुनीत कार्य में भारत के सभी वर्ग के लोगों के सहयोग एवं समर्पण की आवश्यकता है। सभी यथा शक्ति निधि समर्पण करें। इस अभियान से जुड़े सभी सदस्यों को भी उन्होंने प्रेरित किया। उद्घाटन समारोह के दौरान देवघर विधायक नारायण दास ने मंदिर निर्माण के लिए अपनी ओर से 1.51 लाख रुपये देने की घोषणा की। विहिप जिला अध्यक्ष डॉ राजीव पांडे एवं राष्ट्रीयता संघ के जिला सह संघचालक डॉ एन डी मिश्रा ने भी अपनी-अपनी ओर से एक-एक लाख रुपये देने की घोषणा की। उद्घाटन समारोह में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ एवं विश्व हिदू परिषद के सभी दायित्व वान पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे। डॉ गोपालजी शरण, अरूण झा, विहिप जिला उपाध्यक्ष डॉ अमित प्रसाद, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के रोहित वर्णवाल सह प्रदेश मंत्री रामनरेश सिंह, अभिषेक मिश्रा, विवेक तिवारी एवं अन्य मौजूद थे। मंच संचालन राकेश बरनवाल ने किया। विहिप जिला मंत्री सह जिला अभियान प्रमुख बिक्रम सिंह, संजय चौधरी, जिला हिसाब प्रमुख-अजय कुमार सिन्हा, आनंद कुमार, सोनू सिंह, अजय गुप्ता एवं अन्य ने कार्यक्रम की सफलता में सहयोग किया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021