कुशीनगर: रामकोला थाना क्षेत्र के पपउर गांव के बौद्ध विहार में स्थापित भगवान बुद्ध की प्रतिमा को बुधवार की रात अराजक तत्वों ने क्षतिग्रस्त कर दिया है। विहार के संरक्षक रामनाथ ने अज्ञात के खिलाफ थाने में तहरीर दी है।

गांव के दक्षिणी छोर पर ऐतिहासिक बौद्ध स्थली है। यहां मंदिर का निर्माण कराकर चबूतरा पर भगवान बुध की प्रतिमा स्थापित की गई है। रामनाथ बौद्ध स्थली के संरक्षक हैं और विहार की सफाई, पूजा अर्चना करते हैं। उनका कहना है कि गुरुवार को सुबह जब बौद्ध विहार में सफाई करने पहुंचे तो देखे कि प्रतिमा को खंडित कर दिया गया था। प्रतिमा के दाहिने हाथ की अंगुलियां टूटी थीं। इसकी जानकारी होते ही बौद्ध धर्म में आस्था रखने वाले लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। प्रभारी निरीक्षक करुणेश प्रताप सिंह ने कहा कि तहरीर मिली है। अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।

12 क्विंटल मछलियों की मौत, तालाब में जहर डालने का आरोप

कसया थाने के गांव बैदौली महुआडीह में ग्राम सभा की पोखरी में जहर डाल देने से लगभग 12 क्विंटल मछलियां मर गईं। मत्स्यपालक ने अज्ञात पर जहर डालने का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी है।

मत्स्यपालक लालबाबू की तहरीर के मुताबिक ग्राम सभा की पोखरी पट्टे पर ली गई है, इसमें मछली पाली गई थी। वर्तमान समय में लगभग 12 क्विंटल मछली तैयारी थी। मंगलवार की रात अज्ञात लोगों ने तालाब में जहर डाल दिया, जिससे मछलियां मर गईं। लगभग ढाई लाख रुपये का नुकसान हुआ है। चौकी प्रभारी कुशीनगर जगमेंद्र कुमार ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021