राजेश शर्मा, जोगेंद्रनगर

उपमंडल जोगेंद्रनगर में अवैध खनन को रोकने में जोगेंद्रनगर पुलिस, प्रशासन की सख्ती बेअसर साबित हुई है। ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध खनन धड़ल्ले से जारी है। जोगेंद्रनगर के मच्छयाल स्थित रणा खड्ड में खनन माफिया सक्रिय है। यहां से रोजाना अलग-अलग माध्यम से रेत-बजरी निकाली जा रही है। रेत-बजरी के बड़े-बड़े ढेर खड्ड के इर्दगिर्द लगाए गए हैं लेकिन विभाग, पुलिस और प्रशासन खनन माफिया पर नकेल नहीं कस पा रहा है। आसपास के लोगों की शिकायतों के उपरांत भी कार्रवाई नहीं हो रही है।

इससे पहले शहर से चार किलोमीटर दूर डोहग स्थित सुक्कड़ खड्ड में अवैध खनन का काला कारोबार जारी था। यहां पर प्रशासन ने त्वरित कार्रवाई करते हुए उन तमाम रास्तों को उखाड़ फेंका था, जहां से अवैध खनन का सिलसिला जारी था। बता दें जोगेंद्रनगर के लडभड़ोल क्षेत्र की तुलाह पंचायत और बिनवा खड्ड भी अवैध खनन का शिकार हो गई है। औपचारिकता के तौर पर की जा रही कार्रवाई खनन माफिया के हौंसले बुलंद कर रही है। लोगों ने अवैध खनन से नदियों को पहुंच रहे नुकसान पर खनन माफिया के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

----------

इस साल 100 मामले अवैध खनन के दर्ज

पुलिस थाना जोगेंद्रनगर में अवैध खनन के सौ से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं। अनुमानित दो लाख रुपये का जुर्माना भी वसूला गया है। 20 से अधिक वाहन भी अवैध खनन के मामले में जब्त किए गए हैं। बावजूद उसके भी यह धंधा चरम पर है। वहीं पुलिस थाने के कार्यकारी प्रभारी अर्जुन राणा ने बताया कि अवैध खनन पर पुलिस थाने में आए दिन मामले दर्ज हो रहे हैं। रणा खड्ड पर अवैध खनन की शिकायतें मिली है। जिस पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

------------

जोगेंद्रनगर में अवैध खनन के मामलों पर प्रशासन ने सबंधित विभाग और पुलिस को सख्त कार्रवाई के दिशा-निर्देश जारी कर रखे हैं। अवैध खनन किसी भी सूरत में बर्दास्त नहीं होगा। क्षेत्र में जहां भी अवैध खनन की शिकायतें प्रशासन के द्वार पंहुच रही है वहां पर त्वरित कार्रवाई के निर्देश जारी किए गए हैं।

-अमित मेहरा, एसडीएम जोगेंद्रनगर।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस