एटा, जागरण संवाददाता: निधौलीकलां क्षेत्र में सड़क किनारे घायल मिले होमगार्ड की इलाज के दौरान आगरा में मौत हो गई। गमगीन माहौल में रविवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया।

शुक्रवार रात जिला अस्पताल से पिलुआ के ग्राम नगला दुबे निवासी 54 वर्षीय होमगार्ड दानवीर सिंह को घायल अवस्था में आगरा रेफर किया गया था। इलाज के दौरान शनिवार रात उनकी मौत हो गई। रविवार सुबह पोस्टमार्टम के बाद शव गांव में पहुंचा तो आसपास के ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई। गमगीन माहौल में अंतिम संस्कार कर दिया गया। बता दें कि शुक्रवार शाम निधौलीकलां थाने में ड्यूटी करने के बाद वह घर को निकले थे। रास्ते में उनके साथ क्या हुआ यह तो किसी को नहीं मालूम। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सड़क किनारे घायल हालत में पड़े दानवीर सिंह को जिला अस्पताल में भर्ती कराया था। मृतक के भाई सुभाष बाबू ने बताया कि वर्ष 2017 में निधौलीकलां क्षेत्र के ग्राम सभापुर में पुलिसकर्मियों से सरकारी राइफल लूटने के मामले में उनके भाई मुख्य गवाह थे। मृतक के भाई ने साथी होमगार्ड पर हत्या की साजिश में शामिल होने का आरोप लगाया है।

जुआ के अड्डे पर छापा मारहरा पुलिस ने जुआ के अड्डे पर छापा मारकर 8 लोगों को गिरफ्तार किया है। जुआरियों के कब्जे से 11 हजार से अधिक की नकदी बरामद की गई है।

रविवार शाम पुलिस को सूचना मिली कि नगला भीम के जंगल में स्थित बाग में जुए का अड्डा चल रहा है। जिस पर बाहर के लोगों का भी आना जाना है। इस जानकारी पर पुलिस ने छापा मार दिया। मौके से ग्राम मुनब्बरपुर निवासी सत्यप्रकाश, सत्यपाल, नगला भीम निवासी हरीशचंद्र, मोरमुकुट, हजरतनगर निवासी हरिओम, नगला गहराना निवासी रामभरोसे, कासगंज जनपद के ढोलना क्षेत्र के ग्राम पथरैकी निवासी मुनीष कुमार, बहटा निवासी रमेशचंद्र को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपितों के कब्जे से 11400 रुपये की नकदी बरामद की है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस