अमेठी : सड़क सुरक्षा सप्ताह के तहत रोडवेज स्टेशन पर चालकों व परिचालकों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए कैंप लगवाया गया। कैंप में कुल 35 बसों और व्यावसायिक वाहनों के चालकों, परिचालकों के नेत्र व स्वास्थ्य की जांच की गई। जांच के दौरान दो चालकों आंख में दिक्कत होने पर उन्हें चश्मा पहनने की सलाह चिकित्सकों ने दी।

स्वास्थ्य कैंप में पहुंचे संभागीय परिवहन अधिकारी प्रवर्तन अयोध्या मंडल शेखर ओझा ने चालको से महिला सुरक्षा, कोविड-19 से बचाव एवं सड़क पर सुरक्षित चलने के लिए यातायात नियमों की जानकारी विस्तार से दी। उसके बाद सभी चालकों व परिचालकों को सड़क सुरक्षा संबंधी शपथ दिलाई। एआरटीओ प्रशासन सर्वेश कुमार सिंह ने कहा कि देखभाल कर चलना भईया, राह, शहर और गली-गली। बात पते की इतनी सी है, दुर्घटना से देर भली। एआरएम रोडवेज राकेश मोहन पांडेय ने भी चालकों सुरक्षित यातायात के नियम बताएं। वहीं यातायात प्रभारी अजय सिंह तोमर ने गौरीगंज, जायस व गांधी नगर बाजार में काली फिल्म लगाकर चलने वाले वाहनों के विरुद्ध अभियान चलाया गया। काली फिल्म लगाकर चलने वाले वाहनों के विरुद्ध चालान व जुर्माने की कार्रवाई की गई। शराब पीकर वाहन चलाने वालों के विरुद्ध सघन चेकिग की गई। ब्रेथ एनालाइजर लगाकर एक-एक वाहन चालक की जांच की गई। चेकिग में अनियमिता मिलने पर 72 वाहनों का चालान कर 81 हजार का जुर्माना लगाया गया।

बिना कागज के चलते मिले वाहन, किया चालान :

संग्रामपुर थाने के उपनिरीक्षक शिवजनम यादव की अगुवाई में वाहनों की चेकिग में दर्जन भर से अधिक वाहनों के कागजात अपूर्ण मिले। पुलिस ने अठारह सौ का ई चालान किया है।

एसडीएम और सीओ ने की चेकिग :

शहर के गांधी चौक पर एसडीएम योगेन्द्र सिंह, सीओ अर्पित कपूर की अगुवाई में मास्क की चेकिग की गई। बिना मास्क मिले लोगों को दोनों अधिकारियों ने फटकार लगाई। दोबारा पकड़े जाने पर कार्रवाई की हिदायत भी दी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस