संवाद सूत्र, मधुपुर : मधुपुर स्टेशन पर स्टार्टर सिग्नल पार करके गुरुवार को अचानक ट्रेन संख्या 02465 अप मधुपुर से आनंद विहार टर्मिनल स्टेशन जाने वाली बैधनाथ धाम सुपरफास्ट एक्सप्रेस के खड़ा हो जाने पर रेल महकमे में अफरा तफरी मच गई। बताया जाता है कि मधुपुर से आनंद विहार को जाने वाली बैधनाथ धाम सुपरफास्ट एक्सप्रेस ट्रेन अपने निर्धारित समय पर स्टेशन से खुली। वजह इंजन में लगे दुर्घटना संकेत लाइट खराब हो जाने की जानकारी होते ही चालक ने ट्रेन को रोक दिया। ट्रेन रुकते ही स्थानीय रेल अधिकारियों व कर्मी दौड़ पड़े। चालक ने इंजन के दुर्घटना संकेत लाइट (फ्लैशर लाइट) खराब होने की जानकारी अधिकारियों को दी। रेल कर्मियों ने इंजन के लाइट को ठीक करने का काफी प्रयास किया लेकिन उसे ठीक नहीं कराया जा सका। रेल अधिकारियों ने चालक को झाझा में लाइट को ठीक कर लिए जाने का आश्वासन दिया। इसके बाद करीब 15 मिनट विलंब के बाद चालक ट्रेन लेकर मधुपुर से गंतव्य स्थान के लिए रवाना हुआ ।

क्या है (इंजन का फ्लैशर लाइट) दुर्घटना संकेत लाइट : रेल ट्रेन के प्रत्येक इंजन में एक (फ्लैशर लाइट) दुर्घटना संकेत लाइट लगी रहती है। इसे दुखी लाइट भी कहते हैं। जब अचानक रेलवे ट्रैक सहित किसी भी सुनसान स्थान पर हादसा होने पर चालक लाइट जलाकर सामने या बगल के पटरी से गुजरने वाली ट्रेन के चालक को दुर्घटना का संकेत देता है ताकि तेज रफ्तार से बगल में गुजर रहे ट्रेन के चालक उस लाइट को देख तुरंत उस ट्रेन को रोक दें। बड़े रेल हादसा को रोकने में यह लाइट काफी मददगार साबित होती है। ट्रेन के चालक आपातकालीन में इस बत्ती को जलाकर दुर्घटना का संकेत होने की जानकारी देते है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021