जागरण संवाददाता, जौनपुर : स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार के लिए महत्वाकांक्षी कायाकल्प कार्यक्रम के क्रियान्वयन में जनपद बेहतर है। इसी का परिणाम है कि इस साल पांच अस्पतालों ने कायाकल्प पुरस्कार हासिल कर पूर्वांचल में प्रथम स्थान पाया है। इन अस्पतालों में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डोभी लगातार तीन साल से पुरस्कार की सूची में शामिल हो रहा है।

केंद्र सरकार स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार के लिए महत्वाकांक्षी कार्यक्रम कायाकल्प चला रही है। इसका मुख्य उद्देश्य चिकित्सा इकाइयों में मिल रही स्वास्थ्य सुविधाओं की गुणवत्ता में सुधार करना है। जनपद का इस योजना के संचालन में बेहतर प्रदर्शन है। वर्ष 2017-18 में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डोभी को सूबे में प्रथम स्थान पाने का गौरव हासिल हुआ। अस्पताल को 15 लाख रुपये पुरस्कार के रूप में मिले। अगले वर्ष वर्ष 2018-19 में भी यह अस्पताल छठवें और 2019-2020 में चौथे स्थान पर रहते हुए पूर्वांचल में प्रथम स्थान हासिल किया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डोभी के चिकित्सकों व कर्मचारियों की प्रेरणा से जिले के अन्य अस्पतालों में भी काफी परिवर्तन आया है। वर्ष 2020-21 में जनपद के अमर शहीद उमानाथ सिंह जिला चिकित्सालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डोभी, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मछलीशहर, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तेजीबाजार, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मुंगराबादशाहपुर कायाकल्प अवार्ड की सूची में शामिल हुए। कायाकल्प कार्यक्रम का संचालन जिला कार्यक्रम प्रबंधक सत्यव्रत त्रिपाठी के मार्गदर्शन में जिला सलाहकार डा. क्षितिज पाठक, कार्यक्रम सहायक रामराज मिश्रा के निर्देशन में किया जा रहा है। जिले के पांच अस्पतालों के पुरस्कार की सूची में शामिल होने पर मुख्य चिकित्साधिकारी डा.राकेश कुमार ने खुशी जाहिर किया। कहा कि आगे भी बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं की गुणवत्ता सुधार के लिए प्रयास जारी रहेगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस