जागरण संवाददाता, अमृतसर : बालीवुड अभिनेत्री हेमा मालिनी की ओर से कृषि सुधार कानूनों के खिलाफ आंदोलन करने वाले किसानों पर टिप्पणी करने पर किसानों में रोष पैदा हो गया। हेमा मालिनी के बयान पर भड़के किसानों ने जगह जगह उसके पुतले फूंककर रोष जताया।

किसान मजदूर संघर्ष कमेटी पंजाब के राज्य सचिव सरवन सिंह पंधेर के आह्वान पर भाजपा सांसद हेमा मालिनी का जंडियाला गुरु रेलवे स्टेशन के बाहर अर्थी फूंक प्रदर्शन किया गया। वहीं जंडियाला गुरु में वीरवार को किसानों का रेल रोको आंदोलन 113वें दिन में दाखिल हो गया। किसान नेताओं बूटा सिंह, मंगल सिंह, डाक्टर गुरनाम सिंह, पवित्र सिंह, जसवंत सिंह, हरनाम सिह ने कहा कि उन्हें अपनी मांगों के बारे में पता है और भाजपा जानबूझकर माहौल खराब कर रही है। उन्होंने कहा कि किसानों की तरफ से इस दौरान 40 मुक्तों की कुर्बानी को याद किया गया और उनकी कुर्बानी से दिशा लेने का प्रण किया। यह भी बताया कि किसान नेता सुखविंदर सिंह द्वारा 26 जनवरी की ट्रैक्टर परेड में भाग लेने के लिए मीटिगों का सिलसिला जारी है।

इसी तरह किसान संघर्ष कमेटी के कार्यकर्ताओं की ओर से मानांवाला टोल प्लाजा पर अनशन जारी रखा गया। वीरवार को बुजुर्ग धरने पर बैठे और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। आल इंडिया किसान सभा के कार्यकर्ताओं की ओर से मजीठा रोड स्थित निजी कंपनी के रिटेल मार्ट के बाहर रोष धरना दिया। इसी तरह किसानों ने भारतीय किसान यूनियन के नेतृत्व में कत्थूनंगल टोल प्लाजा पर धरना दिया। भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं की ओर से अजनाला रोड मीरां कोट चौक के बाहर धरना दिया जबकि तीस किसान संगठनों के सांझा गठजोड के कार्यकर्ताओं ने राज्यसभा सदस्य श्वेत मलिक के घर के बाहर और माल आफ अमृतसर के बाहर रोष प्रदर्शन किया।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021