जासं, अमृतसर : गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी (जीएनडीयू) के फार्मास्यूटिकल साइंस विभाग में एक विद्यार्थी की लापरवाही से धमाका हो गया। इससे वह विद्यार्थी जख्मी हो गया और विभागीय लैब को भी नुक्सान हुआ। हालांकि वीरवार दोपहर तक इसकी जीएनडीयू प्रबंधन ने कोई पुष्टि नहीं की और विभाग ने इसे दबा दिया।

यूनिवर्सिटी से सूत्रों के मुताबिक इस धमाके का कारण किसी गैर फार्मास्यूटिकल साइंस विभाग के विद्यार्थी की लापरवाही मानी जा रही है। फार्मास्यूटिकल साइंस विभाग लैब में बाटनी विभाग के रिसर्च फैलो ने अलग-अलग केमिकल का गलत ढंग से मिश्रण कर दिया, जिसकी वजह से धमाका हुआ है। रिसर्च फैलो की लापरवाही से हुई घटना, विद्यार्थी का दायां हाथ जख्मी हुआ

इस घटना में रिसर्च फैलो का दायां हाथ जख्मी होने के साथ-साथ विभाग की बिजली भी गुल हो गई जबकि लैब के सामान को भी नुकसान पहुंचा। फायर ब्रिगेड ने इस धमाके पर काबू पाया था। हालांकि इसके बारे में यूनिवर्सिटी का कोई भी अधिकारी या स्टाफ मुंह खोलने को तैयार नहीं है। डा. बलबीर सिंह ने माना बुधवार को धमाका हुआ

वहीं देर शाम को जीएनडीयू के फार्मास्यूटिकल साइंस विभाग के अध्यक्ष डा. बलबीर सिंह का कहना है कि लैब में बुधवार को धमाका हुआ था, जो फायर ब्रिगेड की टीम के पहुंचने से पहले ही विभाग के खोजार्थियों के साथ-साथ टीचिग व नान टीचिग स्टाफ सदस्यों ने धमाके पर काबू पा लिया था। हालांकि उन्होंने लैब में हुए धमाके के साथ हुए नुक्सान को नकारा है और कहा कि लैब के साथ-साथ जान व माल सब कुछ सुरक्षित है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021