लखनऊ, जेएनएन। अजीत सिंह हत्याकांड में साजिश रचने के आरोपित पूर्व सांसद धनंजय सिंह मुकदमे को खत्म कराने के लिए हाईकोर्ट की शरण में हैं। पूर्व सांसद के वकीलों ने गिरफ्तारी पर रोक लगाने और उन पर दर्ज मुकदमे को खत्म करने की मांग संबंधित अर्जी न्यायालय में दी है। इस संबंध में शुक्रवार को सुनवाई होगी।

उधर, गिरधारी एनकाउंटर मामले में विभूति खंड पुलिस और संबंधित अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की अर्जी पर कोर्ट बुधवार को सुनवाई करेगी। गिरधारी एनकाउंटर मामले में मंगलवार को न्यायालय ने सुनवाई की। इससे पहले इंस्पेक्टर विभूतिखंड की ओर से दी गई अर्जी में रिपोर्ट देने के लिए एक सप्ताह का समय मांगा गया। इसपर न्यायालय ने एक सप्ताह का समय देने से मना कर दिया। कोर्ट में इंस्पेक्टर विभूतिखंड अथवा कोई अधिकारी उपस्थित नहीं था। उधर, गिरधारी के भाई राकेश विश्वकर्मा ने कोर्ट में अर्जी देकर पुलिस अधिकारियों की ओर से न्यायालय में दाखिल किए गए हलफनामे को झूठा बताया है। इस मामले की सुनवाई 25 फरवरी को होगी।

गौरतलब है कि मऊ के ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि अजीत सिंह हत्याकांड में पूर्व सांसद धनंजय सिंह पर हत्या की साजिश रचने का आरोप लगा था। पुलिस ने पूर्व सांसद को आरोपित बनाया था और उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी की गई थी। तब से पूर्व सांसद फरार हैं। पुलिस आरोपित की तलाश में लगातार दबिश दे रही है। हालांकि अभी तक कोई सुराग नहीं लगा है। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप