नवादा : गोविदपुर थाना क्षेत्र के महकार गांव निवासी उपेंद्र यादव के बड़ैल गांव स्थित ईंट भट्ठा पर बुधवार की रात अपराधियों द्वारा गोलीबारी और वहां काम करने वाले मजदूरों के साथ मारपीट भी की गई। साथ ही वहां खड़ा दो ट्रैक्टर को भी आग के हवाले कर दिया। घटना का कारण 20 लाख रुपये रंगदारी नहीं देना बताया जा रहा है। सूचना के बाद गोविदपुर थाना की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और मामले की छानबीन की। शुरूआती जांच में मामला पुरानी रंजिश का सामने आ रहा है।

जानकारी के अनुसार बुधवार की रात्रि लगभग 10 बजे शस्त्रों से लैसा आधा दर्जन अपराधियों का जत्था एक स्कार्पियो से ईंट भट्ठा के पास पहुंचा और ताबड़तोड़ फायरिग करने लगा। वहां ईंट पथाई करने वाले मजदूरों ने बताया कि अपराधी भट्टा मालिक को खोज रहे थे। लेकिन, भट्ठा मालिक यहां मौजूद नहीं मिले। तब फायरिग करते हुए ट्रैक्टर में आग लगा दिया। इस दौरान कुछ मजदूरों के साथ मारपीट भी की गई।

ईंट भट्ठा पर मौजूद सभी मजदूर उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद के रहने वाले हैं। घटना से मजदूर काफी भयभीत दिखे। कुछ तो काम छोड़ कर अपने-अपने घर पलायन करने लगे हैं। घटनास्थल से गोविदपुर थाना की पुलिस ने कई खाली कारतूस बरामद किया है। भट्ठा संचालक उपेन्द्र यादव ने बताया कि 15 दिन पूर्व में 20 लाख की अपराधियों द्वारा रंगदारी मांग की गई थी। नहीं देने पर बुधवार की रात को स्कॉर्पियो से आए अपराधियों ने करीब 10 से 15 राउंड गोलियां चलाई और इसी दौरान मजदूरों के साथ मारपीट किया व धमकी दिया की भट्ठा छोड़कर यहां से भाग जाओ, नहीं तो सबको मार दिए जाओगे। भट्ठा पर मौजूद दो ट्रैक्टर को अपराधियों ने आग के हवाले कर दिया। स्थानीय लोगों ने बताया कि महकार गांव में पूर्व से चले आ रहे दो पक्षों में वर्चस्व की लड़ाई को लेकर यह घटना को अंजाम दिया गया है। बता दें कि महकार गांव में दो पक्षों में वर्चस्व की लड़ाई को लेकर कई हत्याएं हो चुकी है। भट्ठा संचालक ने यह भी बताया कि गांव के ही कुछ अपराधिक तत्व के लोगों द्वारा इस घटना को अंजाम दिया गया है। पुलिस मामले की हर पहलू पर छानबीन कर रही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021