जागरण संवाददाता, वाराणसी : श्री राम मंदिर निर्माण को लेकर विश्व हिदू परिषद व समविचार परिवार के सदस्यों की ओर से धन-संग्रह का कार्य 15 जनवरी से शुरू होगा। इसके लिए हर तैयारी कर ली गई है। इस बाबत गुरुवार को लहरतारा के बौलिया स्थित दक्षिण जिला कार्यालय में बैठक हुई। इसमें धन-संग्रह को लेकर बनी रूपरेखा को अंतिम रूप दिया गया। विश्व हिदू परिषद के महानगर अध्यक्ष कन्हैया सिंह ने बताया कि शुक्रवार को सुबह सात बजे गंगा स्नान कर श्रीकाशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन किया जाएगा। इसके बाद लहरतारा के बौलिया स्थित दक्षिण जिला कार्यालय व मलदहिया स्थित उत्तर जिला कार्यालय में बैठक होगी। यहां धन-संग्रह टोलियों की जुटान होगी। सभी के नाम रजिस्टर में दर्ज किए जाएंगे। इसके बाद सुबह 11 बजे टोलियां धन-संग्रह के लिए बस्तियों में रवाना होंगी।

महानगर अध्यक्ष ने बताया कि जिले को दो भागों में बांटा गया है, एक दक्षिण और दूसरा उत्तर जिला। हर जिले में 12 नगर बनाए गए हैं। प्रत्येक नगर में 10 बस्तियां हैं। इस तरह प्रत्येक जिले में कुल 120 बस्तियां हैं। उत्तरी व दक्षिणी जिले को मिलाकर कुल 240 बस्तियों की संरचना की गई है। इन बस्तियों में धन-संग्रह के लिए 1500 टोलियां बनाई गई हैं। हर टोली में विश्व हिदू परिषद समेत समविचार परिवार यानी आरएसएस, संत समाज, भाजपा, बजरंग दल समेत अन्य संस्थाओं को शामिल किया गया है। धन-संग्रह अभियान को पारदर्शी बनाने के लिए एक एप भी बनाया गया है। यह एप श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के नाम से बना है। अभियान से संबंधित पूरी जानकारी एप पर उपलब्ध है। इसके माध्यम से विहिप धन संग्रह अभियान की निगरानी भी कर सकेगी। साथ ही बैंक शाखाओं में नकदी जमा करने के लिए भी एप उपयोगी होगा। धन संग्रह से जुड़े कार्य को संपन्न कराने के लिए कोड बनाया गया है। पूरे अभियान की निगरानी जिला स्तर से लेकर केंद्र स्तर तक की जाएगी। प्राप्त धन जमा करने के लिए स्टेट बैंक आफ इंडिया, पंजाब नेशनल बैंक, बैंक आफ बड़ौदा की शाखाओं में सुविधा दी गई है। इन बैंकों में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के नाम से खाता खोला गया है। मोहल्ला-गांव में धन संग्रह करने के बाद जिला कार्यालय में पूरा विवरण दर्ज कराना होगा और प्राप्त धन समीप की बैंक शाखा में जमा करना होगा।

दो चरणों में धन संग्रह अभियान : धन-संग्रह अभियान दो चरणों में चलेगा। पहला चरण 15 से 31 जनवरी तक चलेगा जबकि दूसरा एक से 27 फरवरी तक। धन-संग्रह टोली पहले चरण में बड़े दानदाताओं के बीच जाएगी। धन-संग्रह के लिए तीन तरह के कूपन बनाए गए हैं। इसमें 10, 100 व 1000 रुपये के कूपन हैं। इसमें 1000 से 20000 रुपये तक की धनराशि दान करने पर रसीद दी जाएगी। इससे अधिक धनराशि होगी तो बैंक खातों में जमा करने के लिए चेक, बैंक ड्राफ्ट या आरटीजीएस करना होगा। दक्षिण जिला के अभियान प्रमुख कन्हैया सिंह वह उत्तर जिला के अभियान प्रमुख राजन तिवारी बनाए गए हैं। इन दो पदाधिकारियों की निगरानी में वाराणसी जिले में धन संग्रह का अभियान संपन्न कराया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021