खन्ना (लुधियाना), जेएनएन। संत बाबा दर्शन सिंह जी खालसा गुरुद्वारा तपोवन ढक्की साहिब मकसूदड़ा वालों की ओर से तीसरा बसंत राग दरबार कीर्तन का आयोजन किया गया। समारोह की शुरूआत ढक्की साहिब के हजूरी जत्थे ने ‘आज हमारै गृह बसंत’ शबद पढ़कर की। तपोवन ढक्की साहिब टकसाल के विद्यार्थियों व रागी जत्थों की ओर से सारंदा, ताऊस, दिलरूबा, वायलन आदि के साथ गुरबाणी का गायन किया।

समारोह के दौरान पुरातन शैली देखने के लिए आए डा. अर्शप्रीत सिंह प्रमुख गुरमति संगीत विभाग घनौर, डा. हर¨वदर सिंह चंडीगढ़, गुरमति संगीत एकेडमी दोराहा से सिमरनजीत कौर खालसा, रागी सतनाम सिंह खन्ना, बलवंत सिंह, अमरजीत सिंह मांगट आदि के रागी जत्थों ने भी निर्धारित राग में गुरबाणी कीर्तन किया।

संत बाबा दर्शन सिंह जी खालसा की ओर से गुरमति संगीत मारतंड शिरोमणि रागी पद्मश्री प्रो. करतार सिंह, गुरमति संगीत आचार्य डा. जसवीर कौर व डा. कमलजीत सिंह प्रमुख गुरमति संगीत विभाग पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला को सम्मानित किया। समारोह दौरान बाबा सुरजीत सिंह घनौर कलां, बाबा प्यारा सिंह बरेटा, बाबा हिम्मात सिंह रामपुर छन्ना ने भी हाजिरी लगवाई।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप