जागरण संवाददाता,बांदा: जिले के महाविद्यालयों में सोमवार से कक्षाएं शुरू होंगी। इसके लिए छात्र-छात्राओं के हिसाब से रोस्टर तैयार किया गया है। 50-50 फीसद बच्चे हर रोज आएंगे। छात्र- छात्राओं को थर्मल स्क्रीनिग व सैनिटाइज के साथ सास्क लगाकर महाविद्यालय आना होगा। रविवार को महाविद्यालयों में सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

कोरोना संक्रमण के चलते महाविद्यालयों में इस वर्ष शैक्षिक सत्र में ऑफलाइन कक्षाएं नहीं संचालित हो रही हैं। करीब छह माह से छात्र-छात्राओं की पढ़ाई पूरी तरह प्रभावित है। हालांकि दो माह से शासन के निर्देश पर ऑनलाइन कक्षाएं ली जा रही हैं, लेकिन इससे पढ़ाई पूरी तरह पटरी पर नहीं आ रही है। शासन ने सोमवार से कोरोना नियमों का पालन करते हुए महाविद्यालयों को खोले जाने के निर्देश दिए हैं। शहर के करीब छह महाविद्यालयों में और ग्रामीण इलाकों के करीब 26 महाविद्यालयों में सोमवार से विद्यालय खोले जाने के लिए तैयारियां की गई। कुछ महाविद्यालयों में कोविड हेल्प डेस्क की स्थापना की गई है। छात्र छात्राओं को सोमवार से कक्षाओं में पढ़ाया जाएगा। इसके लिए रोस्टर निर्धारित किया गया है।रोस्टर के हिसाब से छात्र-छात्राएं कक्षाओं में बैठेंगे। निर्धारित दूरी में बैठाने के लिए रोल नंबर निर्धारित किए गए हैं। 50-50 फ़ीसदी बच्चे बुलाए जाएंगे।ऑफलाइन कक्षाओं के साथ ऑनलाइन कक्षाएं भी जारी रहेंगी। गेट पर दो कर्मचारियों को नियमित रूप से लगाया गया है। वह छात्र छात्राओं के थर्मल स्क्रीनिग करेंगे। इसके साथ ही सैनिटाइज से हाथ धो कर अंदर प्रवेश करेंगे। हालांकि अभी छात्र छात्राओं के अभिभावकों में कोरोना संक्रमण को लेकर भय है। शहर के जेएन डिग्री कॉलेज, राजकीय महिला डिग्री कॉलेज,राजा देवी डिग्री कॉलेज, एकलव्य महाविद्यालय, कृषि महाविद्यालय में पूर्व संध्या पर कक्षाओं के लिए तैयारियां होती रही।

---------------

कोरोना से बचने को कराया जाएगा नियमों का पालन

- महिला महाविद्यालय में सोमवार से कक्षाएं शुरू होंगी। कोरोना से बचने के लिए नियमों का हर हाल में अनुपालन कराया जाएगा। इसके लिए सभी तैयारियां कर ली गई हैं। छात्राओं को निर्धारित दूरी में बैठाया जाएगा।

- डॉ.दीपाली गुप्ता, प्राचार्य राजकीय महिला डिग्री कॉलेज, बांदा

----------------

कक्षा में परीक्षा की तर्ज पर बैठेंगे छात्र-छात्राएं

- कोरोना महामारी के बीच पढ़ाई व कक्षाएं भी बेहद जरूरी हैं ऐसे में सोमवार से कक्षाओं का संचालन शुरू किया जाएगा कॉलेज में प्रत्येक कक्षाओं में परीक्षा की तर्ज पर निजी लगाई गई हैं छात्र छात्राओं के रोल नंबर चस्पा किए गए हैं उसी आधार पर बैठेंगे जो रोस्टर निर्धारित होगा थर्मल स्क्रीनिग हुआ जांच की भी पूरी व्यवस्था की गई है आशंका के आधार पर संबंधित छात्र छात्राओं को तुरंत जांच कराकर भर्ती कराया जाएगा।

- डॉ.केएस कुशवाहा,प्राचार्य पंडित जेएनन डिग्री कॉलेज,बांदा

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस