मुरादाबाद, जेएनएन। रोडवेज प्रबंधन इन दिनों यात्रियों को सुरक्षित यात्रा कराने के ल‍िए प्रयासरत है। दुर्घटना रोकने के लिए बसों के चालकों को प्रोत्साहित करने की योजना बनाई गई है। प्रत्येक साल दुर्घटना रहित बस चलाने वाले चालकों को सम्मानित किया जाएगा।

दिसंबर और जनवरी माह में कोहरे के दौरान प्रदेश में कई स्थानों पर रोडवेज बसें दुर्घटनाग्रस्त हो गईं थीं। मुरादाबाद मंडल के सम्भल में रोडवेज व टैंकर की टक्कर से 10 यात्रियों की मौत हो गई थी। इसी तरह से गजरौला के पास रोडवेज बस हादसे में कई यात्रियों की मौत हो गई थी। इसके अलावा सिटी बस की टक्कर में भी कई यात्र‍ियों की जान जा चुकी है। यह तो बस उदाहरण मात्र है। रोडवेज प्रबंधन बस दुर्घटना को रोकने के लिए मंथन शुरू कर दिया है। बस दुर्घटना रोकने के लिए चालकों को जागरूक किया जा रहा है। शीघ्र ही बस चालकों को बसों की चलाने की ट्रेनिंग दी जाएगी। इसमें बसों को नियंत्रित गति से चलाने, तेज गति से वाहनों का ओवरटेक नहीं करने, बसों पर नियंत्रण रखने आदि के बारे में बताया जाएगा। हाईवे पर जानवर आदि नजर आन पर क‍िस तरह से वाहन को न‍ियंत्रित क‍िया जाए, इसकी जानकारी दी जाएगी। बसों को गति कम करने के बारे में भी बताया जाएगा।

क्षेत्रीय प्रबंधक अतुल जैन ने बताया कि प्रत्येक साल दुर्घटना रहित बस चलाने वाले चालकों को सम्मानित किया जाएगा और प्रशस्ति पत्र दिया जाएगा। आने वाले समय में ऐसे चालकों को नकद पुरस्कार भी दिया जाएगा। पिछले दिनों राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह के समापन समारोह पर रोडवेज के दस चालकों को दुर्घटना रहित बस चलाने पर सम्मानित किया गया था और प्रशस्ति पत्र भी दिया गया था।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप