शिवहर। जिले के पिपराही प्रखंड अंतर्गत पिपराही पुल को जोड़ने वाली संपर्क पथ ध्वस्त हो गई है। लंबे समय से सम्पर्क पथ ध्वस्त रहने के चलते आवागमन में परेशानी हो रही हैं। जबकि लोगों को चार किमी की लंबी दूरी तय कर आवागमन की परेशानी है। सबसे ज्यादा परेशान इलाके के किसान हो रहे है। खेत से धान काट कर अन्यत्र ले जाने की राह में ध्वस्त सम्पर्क पथ बाधा साबित हो रही हैं। बताते चलें कि पिपराही में पुल निर्माण के समय ही सम्पर्क पथ का निर्माण कराया गया था। निर्माण एजेंसी द्वारा सम्पर्क पथ का भी निर्माण कराया गया था। लेकिन बारिश की बौछाड़ में सड़क क्षतिग्रस्त हो गया। देखभाल के अभाव में सड़क ध्वस्त हो कर खेत में बदल गया। अब यह सड़क कभी रेत तो कभी खेत और बारिश के चलते कीचड़ में तब्दील नजर आती है। इतना ही नहीं यहां रोजाना वाहन फंसते और पलटते रहते है। साथ ही हादसों में लोग जख्मी होते है। बावजूद इसके शासन - प्रशासन बेपरवाह बना हुआ है। ऐसे में रतनपुर और पकड़ी समेत आसपास के कई गांवों के लोग परेशान है। पकड़ी के संजीव कुमार, अरुण कुमार, रतनपुर के अजय सिंह आदि बताते हैं कि शिवहर जिला विकास के मामले में काफी पिछड़ा हुआ है। शासन प्रशासन और जन प्रतिनिधियों की नाकामी के चलते लोग परेशान है। ध्वस्त सड़क सरकार की नाकामी बयां कर रही हैं। लंबे समय से पुल को जोड़ने वाली संपर्क पथ ध्वस्त होने से यह समस्या बढ़ी है। इससे किसानों को भी भारी परेशानी हो रही है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस